आप यहाँ है :

नवाँ जागरण फिल्म समारोह 18 शहरों में, 100 देशों की 200 फिल्मों का प्रदर्शन होगा

18 शहर, 200 से ज्यादा फिल्म प्रदर्शन, नई श्रेणियां जैसे डॉक्यूमेंट्री प्रतियोगिता, इंटरनेशनल शॉर्ट्स, थीमेटिक स्पेशल और स्टूडेंट्स केंद्रित के साथ बहु भाषायी फिल्में
थीमेटिक स्पेशल में शहर (मुंबई), राज्य (महाराष्ट्र), और देश (अर्जेंटीना) पर आधारित फिल्मों को शामिल किया जाएगा

नई दिल्ली। सिनेमा की समझ विकसित करने वाली संस्कृति को आगे बढ़ाते हुए देश का सबसे बड़ा ट्रैवलिंग फिल्म फेस्टिवल, दि जागरण फिल्म फेस्टिवल (जेएफएफ) अपने नौवें साल में पहुंच चुका है। जेएफएफ सिर्फ सिनेमा से कहीं आगे है। सालों से, अपनी शैली, भाषाओं और भावनाओं के उदार मेल के साथ इसने पूरे भारत के दर्शकों का दिल जीत लिया है। सिनेमा की समझदारी वाला कल्चर बनाने के हमारे लगातार प्रयास में, जेएफएफ का नौंवा संस्करण देश के दर्शकों के साथ महान सिनेमा को जोड़ने के लिए नई श्रेणियों पर ध्यान केंद्रित करेगा।

इस साल, जेएफएफ को 100 देशों से विभिन्न विधाओं में 3500 प्रविष्टियां प्राप्त हुई। इनमें चयनित 200 से ज्यादा फिल्मों का प्रदर्शन होगा। प्रतियोगिता श्रेणी में इंडियन और इंटरनेशनल फीचर्स, शॉर्ट्स, इंडियन डॉक्यूमेंट्रीज और स्टूडेंट्स फिल्मों को शामिल किया जाएगा। वहीं गैर-प्रतियोगी में थीमेटिक स्पेशल, रेट्रोस्पेक्टिव, ट्रिब्यूट्स, इंडिया शोकेस, वर्ल्ड पैनोरमा और हॉट शॉर्ट्स को शामिल किया जाएगा।

इस साल जेएफएफ में भारतीय डॉक्यूमेंट्री की प्रतियोगिता श्रेणी शामिल की गई है। इसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराही और पुरस्कृत डॉक्यूमेंट्रीज जैसे राहुल जैन की मशीन्स, खुशबू रानका और विनय शुक्ला की एन इनसिग्निफिकेंट मैन, वैशाली सिन्हा की आस्क द सैक्सपर्ट, सुमन घोष की द आर्गुमेंटेटिव इंडियन, अनुष्का मीनाक्षी और ईश्वर श्रीकुमार की अप डाउन एंड साइडवेज, ओनिर की रेजिंग द बार और कमल स्वरूप की पुष्कर पुराण शामिल हैं। इस श्रेणी के लिए सुधीर मिश्रा के नेतृत्व में देश के प्रमुख पत्रकारों के साथ विशेष निर्णायक मंडल होगा।

द इंडिया फीचर्स कॉम्पिटीशन में विभिन्न भाषाओं की पुरस्कार प्राप्त फिल्मों को शामिल किया गया है, इनमें तीन मलयालय फिल्में- अंगमाली डायरीज़ के निर्देशक लीजो जोस पेलिसेरी की फिल्म ई.मा.यायू., जकारिया मोहम्मद की सुदानी फ्रॉम नाइजीरिया और सनल कुमार शशिधरन की दुर्गा के अलावा रीमा दास की विलेज रॉकस्टार्स (असमी), अभय सिम्हा की पड्डाई (टुलू), अतानु घोष की मयूराक्षी (बंगाली), पुष्पेंद्र सिंह की अश्वत्थामा (ब्रजभाषा), थ्री स्मोकिंग बैरल्स (उत्तर-पूर्व की छह विभिन्न भाषाएं) इसके साथ-साथ हिंदी फिल्म जैसे अनुराग कश्यप की मुक्काबाज़, शुजीत सरकार की अक्टूबर और मेघना गुलजार की राजी भी शामिल है।

शॉर्ट्स प्रोग्राम में प्रतियोगी श्रेणी को शामिल किया गया है। इसमें इंडिया और इंटरनेशनल शॉर्ट्स और गैर प्रतियोगी श्रेणी में हॉट शॉर्ट्स श्रेणी शामिल की गई है। इंडिया शॉर्ट्स कॉम्पिटीशन पूरे भारत से चुनिंदा शॉर्ट्स को प्रदर्शित करेगा। इसमें स्कैटर्ड (कश्मीरी), पाशी (पहाड़ी, हिंदी), आई टेस्ट (मलयालम), अड्रिफ्ट (बंगाली), वलय (मराठी), कम संवाद की फिल्म रोजाना, डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट बिसमार घर (गुजराती) और अभिषेक वर्मा की एनिमेशन शॉर्ट हाइड एंड सीक शामिल की गई हैं।

इस सेगमेंट में दो फिल्मों, कीर्ति कुल्हारी अभिनीत विकास चंद्रा की माया (हिंदी) और नवीन कस्तूरिया और कोएल सेन की वलय (मराठी) का वर्ल्ड प्रीमियर शामिल है। वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराही गईं चार शॉर्ट्स का इंडियन प्रीमियर भी है, इसमें रुथी प्रीवर की द केयरगिवर (अंग्रेजी, हिब्रू, गुजराती), रीमा सेनगुप्ता की काउंटरफीट कुंकू (मराठी, हिंदी), सीमा पाहवा और पोल्मी घोष अभिनीत मानसी जैन की एवरीथिंग इज फाइन (हिंदी) और अजीतपाल सिंह की हमिंग बर्ड (हिंदी) शामिल हैं।

इंटरनेशनल शॉर्ट्स कॉम्पिटीशन में 2017-18 में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराही गई डॉक्यूमेंट्री, नैरेटिव्स और एनिमेशन शॉर्ट्स शामिल की गई हैं। क्यूरेटेड प्रोग्राम में चाचूरा (अर्जेंटीना) का वर्ल्ड प्रीमियर और पुरस्कार प्राप्त नैरेटिव शॉर्ट्स हुंग यी वु निर्देशित ऑन द वेटलिस्ट (ताइवान), द ब्रिज (ब्राजील), लिली विदइन द क्लाउड्स (फ्रांस), बबल (ईरान ऑस्ट्रेलिया), थ्री मैन (आइसलैंड), मीरिम दोगदुर्बोका की बैकिट (किर्गिस्तान), ऑड जॉब मैन (डेनमार्क), फिश (एस्तोनिया), डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट में द कारपेंटर्स (चीन, यूएसएस), मैनिक्योर (इजिप्ट) और एक एनिमेशन शॉर्ट माय मम्स बैंकर्स (साउथ अफ्रीका) का इंडियन प्रीमियर आयोजित किया जाएगा।

गैर प्रतियोगी शॉर्ट्स सेगमेंट में हॉट शॉर्ट्स में हाल ही के सालों में आई कुछ सर्वश्रेष्ठ शॉर्ट्स, इनमें पायल कपाड़िया की पुरस्कृत आफटरनून क्लाउड्स (सिनेफॉन्डेशन, कान फिल्म फेस्टिवल), आबा (बर्लिनेल 2017), एनिमेशन शॉर्ट्स- टोकरी एंड माछेर झोल और सोहा अली खान अभिनीत साउंडप्रूफ को शामिल किया गया है।

थीम आधारित (थीमेटिक स्पेशल) दर्शकों के सेक्शन की दो डॉक्यूमेंट्रीज का प्रदर्शन करेगा। इसमें सलमान खान पर आधारित डॉक्यूमेंट्री बीइंग भाईजान और रजनीकांत पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फॉर द लव ऑफ ए मैन हैं। द सिटी फोकसः मुंबई में दो फिल्में तू है मेरा संडे और कोर्ट, स्टेट फोकसः महाराष्ट्र में मराठी फिल्म किल्ला और माधुरी दीक्षित अभिनीत बकेट लिस्ट और कंट्री फोकस में अर्जेंटीना की कुछ बेहतरीन फिल्मों का प्रदर्शन होगा। बायोपिक्स में सर्वश्रेष्ठ का प्रदर्शन करने के लिए एक अचीवर्स सेगमेंट भी होगा।

द इंडियन शोकेस श्रेणी में कुछ फिल्में हमें भावनात्मक दुनिया की सैर कराएंगी। जैसे इकतारा कलेक्टिव की तुरुप, डैनी डेन्जोंगपा अभिनीत बायोस्कोपवाला, देवाशीष मखीजा की आजी और कुछ भीगे अल्फाज और द हंग्री।

वर्ल्ड पैनोरमा कैटेगरी एक प्यारी अरेबिक फिल्म फैन ऑफ अमूरी को फीचर करेगा। पेशेवर फुटबॉलर बनने के अपने सपने को पूरा करने के पीछे एक युवा बालक के संघर्ष की कहानी है फैन ऑफ अमूरी।

नई शामिल स्टूडेंट फोकस कैटेगरी में शॉर्ट हॉरर फिल्म डैथ ले हेयर को शामिल किया गया है। यह शॉर्ट हॉरर फिल्म एक नवयुवक की कहानी है, जिसे संयोग से छिपे हुए राज से भरा एक बक्सा मिल जाता है। इसके अलावा एक विदेशी वस्तु के एक परिवार में प्रवेश और उसकी शक्तियों के विरुद्ध उनके वाले संघर्ष की कहानी गिफ्ट शामिल की गई है।

पिछले साल मिली असाधारण प्रतिक्रियाओं के साथ, फिल्म निर्माताओं की बेहतरीन कहानियों को लोगों तक पहुंचाने और इस यात्रा को आगे बढ़ाने के लिए हम दृढ़ संकल्पित हैं। विविधता के साथ लगभग सभी श्रेणियां और विषयों को शामिल करने के प्रयास में हमने नई श्रेणियां शामिल की हैं। अच्छी फिल्मों को समझने की संस्कृति विकसित करने और सामूहिक रूप से इस प्रयास में यह महत्व नहीं रखता कि हम कहां से आए हैं, दि जागरण फिल्म फेस्टिवल इसी के बारे में हैं, बसंत राठौर, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, स्ट्रैटजी एंड ब्रांड डेवलपमेंट, जागरण प्रकाशन लिमिटेड।

जागरण फिल्म फेस्टिवल का 2018 संस्करण देश के 18 शहरों को जोड़ेगा और 200 से ज्यादा फिल्मों का प्रदर्शन होगा। फिल्म प्रदर्शन की यह यात्रा दिल्ली से शुरू होने के साथ सितंबर में मुंबई में पूरी होने से पहले अन्य भारतीय शहर जैसे कानपुर, लखनऊ, अलाहबाद, वाराणसी, पटना, देहरादून, रांची, जमशेदपुर, भोपाल, इंदौर, गोरखपुर, आगर, लुधियाना, हिसार, मेरठ और रायपुर में फिल्म प्रदर्शन के साथ पूरी होगी।

दिनांक- शुक्रवार, 29 जून से मंगलवार, 3 जुलाई

स्थान- सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम, दिल्ली

समय- सुबह 10 बजे से



सम्बंधित लेख
 

Back to Top