ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

निकिता के हत्यारे तौसिफ ने किए कई खुलासे

करीब दो माह पहले आरोपी ने निकिता तोमर हत्याकांड की साजिश रच डाली थी। आरोपी तौसिफ ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि निकिता ने उससे शादी करने से साफ इंकार कर दिया था। इसी वजह से उसने फैसला किया था कि यदि वह मेरी नहीं हो सकती तो मैं उसे किसी और की नहीं होने दूंगा।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आरोपी तौसिफ ने पुलिस द्वारा की गई गहन पूछताछ में बताया है कि वह सन् 2018 में निकिता को शादी की नीयत अपहरण कर ले गया था। उस वक्त भी निकिता ने उससे शादी नहीं की थी। परिजनों द्वारा मामला दर्ज करवाए जाने की वजह से वह उससे शादी नहीं कर पाया था। बाद में आरोपी के परिजनों द्वारा माफी मांगने पर यह मामला खत्म हो गया था। इसके बावजूद आरोपी उससे शादी करना चाहता था। वह उसे काफी प्रयास के बाद भी भूल नहीं पा रहा था। उसे लग रहा था कि निकिता किसी और से शादी करेगी। यह सोचकर वह परेशान हो गया था।

उसने दो माह पहले निकिता की हत्या की योजना बना ली थी। निकिता की हत्या करने के मकसद से उसने पुन्हाना के नजदीक सिंगलहेडी गांव से करीब दो माह पहले कट्टा खरीद लिया था। इसके बाद से ही आरोपी निकिता की तलाश में घूम रहा था। कुछ दिन पहले जब यूनिवर्सिटी ने परीक्षा की डेटशीट जारी की तो वह कॉलेज के सामने घूमने लगा था। हत्या से पहले भी वह तीन-चार बार कॉलेज के सामने पहुंचा था। ताकि मौका मिलते ही निकिता का अपहरण या उसकी हत्या की जा सके। घटना वाले दिन आरोपी अपने साथी के कॉलेज के प्रवेशद्वार पर पहुंच गया था।

पुलिस सूत्रों का यह भी कहना है कि आरोपी ने परीक्षा शुरू होने के बारे में कॉलेज के कुछ छात्रों से भी जानकारी जुटाई थी। पुलिस सूत्रों का यह भी कहना है कि आरोपी ने पुलिस पूछताछ में छात्रा से फोन पर बातें करना भी कबूल किया है। आरोपी छात्रा पर शादी के लिए दबाव बनाने में जुटा हुआ था।

छात्रा उसे सिर्फ दोस्त समझती थी: पुलिस सूत्रों का कहना है कि आरोपी स्कूल में साथ पढ़ा था। इस वजह से छात्रा बातचीत कर लेती थी। मगर, आरोपी एकतरफा प्यार करने लगा। इसी कारण वह सन् 2018 में आरोपी छात्रा को भगा ले गया था। वह किसी भी कीमत पर छात्रा को पाना चाहता था। जब छात्रा ने इंकार किया तो उसने उसकी हत्या कर दी।

पुलिस ने कार बरामद की: अपराध जांच शाखा, डीएलएफ ने सोहना के पहाड़ी एरिया में छापेमारी कर सोहना के कबीर नगर निवासी तौसिफ और रेवासन निवासी रेहान की निशानदेही पर वारदात में प्रयोग की गई गाड़ी बरामद कर ली है। जबकि कट्टा को पहले ही बरामद किया जा चुका है। हत्या के वक्त मुख्य आरोपी का साथी रेवासन निवासी रेहान कार चला रहा था।

साभार https://www.livehindustan.com/ से

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top