आप यहाँ है :

हे भारत सरकार! ये अंग्रेजी में सूचनाएँ किसके लिए है ?

महोदय,

देश में तेजी से किरीट विषाणु (कोरोना) जैसी महामारी पैर पसार रही है परंतु भारत सरकार के सभी मंत्रालय, विभाग और संस्थान राजभाषा अधिनियम 1963 का उल्लंघन करते हुए प्रेस नोट, आदेश व अधिसूचनाएँ केवल अंग्रेजी में जारी कर रहे हैं, गत् 100 दिनों में कोरोना के संबंध में भारत सरकार के किसी भी मंत्रालय ने हिन्दी में एक भी आधिकारिक दस्तावेज जारी नहीं किया, जिसके कारण अंग्रेजी न जानने वाले 97 प्रतिशत भारतीय नागरिकों के बीच गलत सूचनाएँ फैल रही हैं।

मेरे गाँव में ही अंग्रेजी समझने में सक्षम 2-4 लोग ही होंगे, टीवी पर हिन्दी समाचारों में भी डाक्टर व विशेषज्ञ अंग्रेजी में दे रहे हैं, जिसे हम ग्रामीण समझ नहीं पाते है। हम जैसे करोड़ों गाँवों में रहने वाले नागरिकों पर दया करें।

हिन्दी राजभाषा है पर एक भी सरकारी आदेश हिन्दी में जारी नहीं किया जा रहा है, इसलिए आपके हस्तक्षेप करने की तुरंत आवश्यकता है ताकि हमारे देश के करोड़ों अंग्रेजी न जानने वाले आम नागरिक इस महामारी से लड़ने के लिए सही सूचनाएँ प्राप्त कर सकें। आपके द्वारा संबंधित अधिकारियों को त्वरित निर्देश दिए जाने की आशा करता हूँ।

भवदीय,

दिनेश कुमार जैन

देशना मोबाइल स्टोर,

ग्राम- सुल्तानगंज

तह-बेगमगंज, जिला-रायसेन (मप्र)

पिन 464570

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top