आप यहाँ है :

पाकिस्तान की प्रसव वेदना

कुछ दिनों से हमारा पड़ोसी पाकिस्तान गर्भ से है, ये खबर तो आपको पता ही है।

गत कुछ दिनों से पाकिस्तान की दर्द की शिकायत बढ़ती जा रही है। जिसे देखते हुए विदेश यात्रा पर गये हुए डाक्टर मोदी से सम्पर्क किया गया है।

डाक्टर मोदी ने कल रात सोनोग्राफी की रिपोर्ट देखकर बताया कि बच्चे जुड़वा होने वाले है। पहले की रिपोर्ट में सिर्फ बलोचिस्तान था, परन्तु कल की रिपोर्ट में सिंध भी आया है।

ये सुनकर एक तरफ तो भारत (पिता) में खुशी की लहर है वहीं दूसरी ओर चीन (पाकिस्तान के पीहर वालें) नाराज है।

चीन का कहना है कि पाकिस्तान काफी कमजोर और बूढ़ा हो चुका है। प्रथम बच्चे (बंग्लादेश) के जन्म को 45 साल बीत चुके है। इस बीच काफी खून बह जाने के कारण नये बच्चो, और वो भी जुड़वा होने से पाकिस्तान की जान को खतरा है।

डाक्टर मोदी का कहना है की वो चीन की बातों से सहमत है परन्तु समय अधिक बीत जाने के कारण गर्भपात संभव नही है।

पहले जब पाकिस्तान बार बार कश्मीरी सेव खाने की जिद कर रहा था, तब किसी ने ध्यान नही दिया। उससे ये समस्या और बढ़ गई है।

जुड़वा बच्चे होने से डिलीवरी नोर्मल होने की संभावना घट गयी है। डाक्टर मोदी का कहना है की जरूरत पड़ने पर आपरेशन (युद्ध ) किया जायेगा।

अभी आपरेशन का समय निश्चित नही हुआ है। पर ये तो तय है कि जल्द ही पड़ोस में किलकारी गूंजने वाली है।

बताया जा रहा है कि नवजात शिशुओं के कमजोर स्वास्थ्य को देखते हुए, उन्हे कुछ दिन डाक्टर मोदी अपनी कड़ी निगरानी में रखेंगे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top