आप यहाँ है :

दिवाली के बाद दिल्ली में प्रदूषण सबसे बड़ा त्यौहार

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के बीच सोशल मीडिया पर ‘पलूशन हॉलिडे’ निबंध तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें दिल्ली के प्रदूषण पर किसी बच्चे ने अपनी भावनाओं को व्यक्त किया है। बच्चा बता रहा है कि अब से प्रदूषण दिल्ली का प्रमुख त्योहार है। बच्चा अपनी बात को पुख्ता करने के लिए कई ‘वजह’ भी गिना रहा है।
लेटेस्ट कॉमेंट

निबंध में लिखा है कि प्रदूषण दिल्ली का प्रमुख त्योहार है। यह हमेशा दिवाली के बाद शुरू होता है। इसमें हमें दिवाली से भी ज्यादा हॉलीडे मिलते हैं। दिवाली में हमें 4 हॉलिडे मिलते हैं। लेकिन प्रदूषण में हमें 6+2=8 हॉलिडे मिलते हैं।इसमें लोग अलग-अलग मास्क पहनकर घूमते हैं। घरों में काली मिर्च, शहद व अदरक ज्यादा प्रयोग किए जाते हैं यह बच्चों के लिए अधिक प्रिय है।

बता दें कि यहां लिखनेवाला स्कूलों की छुट्टी का जिक्र कर रहा है। पलूशन की वजह से दिल्ली-एनसीआर के स्कूल दो बार बंद किए जा चुके हैं।

यह पत्र फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर शेयर किया जा रहा है। लोगों ने निबंध को पढ़कर चिंता जताई है कि वातावरण की स्थिति लगातार खराब हो रही है।इस बीच दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ता ही जा रहा है। द्वारका, पूसा रोड, सत्यवती कॉलेज, पंजाबी बाग में यह 700 तक पहुंच चुका है। वहीं गुड़गांव में कुछ जगह पीएम 2.5 का स्तर 800 पार है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top