ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

‘प्रभु’ कराएंगे देव दर्शन!

 

नई दिल्ली। रेलवे की यह पहल वाकई कई तरह की सुविधाओं को समेटे हुए है। बस आपको लेना होगा एक टिकट और उसके बाद सभी तरह की जिम्मेदारी रेलवे की होगी। दक्षिण भारत के सभी मंदिरों का दर्शन कराने के लिए रेल महकमे ने इस योजना का बनाया है।

तीर्थ यात्रियों के चलेगी सेमी लग्जरी ट्रेन
जून महीने की शुरुआत में रेल मंत्री ने टाइगर एक्सप्रेस को ही झंडी दिखाकर रवाना किया था और अब तीर्थ यात्रियों के लिए भी वो सेमी लग्जरी रेलगाड़ी चलाने की तैयारी में हैं। ये सेमी लग्जरी ट्रेन इस तरह की पहली ट्रेन होगी जो साउथ इंडिया के लिए चलेगी।

दक्षिण भारत के मंदिरों के कर सकेंगे दर्शन
इस ट्रेन के जरिए दक्षिण भारत में तिरुपति बालाजी, रामेश्वरम अन्य कई प्रसिद्ध मंदिरों का दर्शन कराने की योजना है। रेलवे स्टेशन से मंदिर तक पहुंचने के लिए भी चिंता करने की जरूरत नहीं होगी। यहां तक कि दर्शनों के लिए लंबी कतार में भी खड़ा नहीं होना होगा। आपके लिए यह सभी काम अब रेलवे करेगा।

यात्रियों की सभी सुविधाओं का रहेगा ध्यान
भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम के सहयोग से चलने वाली दक्षिण तीर्थ यात्रा ट्रेन भी टाइगर एक्सप्रेस की तरह सेमी लग्जरी सुविधाओं से सुसज्जित होगी। इस ट्रेन में फर्स्ट एसी, सेकंड एसी और थर्ड एसी के कोच होंगे। इसके साथ ही इसमें डाइनिंग कार भी लगेगी, जिसमें बैठकर यात्री भोजन कर सकेंगे। धार्मिक यात्रा की मर्यादा को ध्यान में रख कर यात्रियों को सिर्फ शाकाहारी भोजन परोसा जाएगा। तिरुपति बालाजी के दर्शन के लिए लंबी प्रतीक्षा सूची रहती है, लेकिन रेलवे यहां भी ये व्यवस्था करेगी।

16 जुलाई को ट्रेन होगी रवाना
सात दिन व छह रात की यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों को न्यूनतम 34,864 रुपये का किराया देना होगा। श्रेणी के हिसाब से अधिकतम किराया 54111 रुपये होगा। इस किराया में भोजन, रात्रि विश्राम, रोड परिवहन आदि भी शामिल होंगे। 16 जुलाई को इस ट्रेन को रवाना करने की योजना है।

पर्यावरण दिवस पर टाइगर एक्सप्रेस को किया था रवाना
गौर हो कि है कि पर्यावरण दिवस के अवसर पर रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से टाइगर एक्सप्रेस को रवाना किया था। टाइगर एक्सप्रेस से पर्यटक मध्य प्रदेश में स्थित कान्हा नेशनल पार्क, बांधवगढ़ नेशनल पार्क सहित अन्य पर्यटन स्थलों का सैर कर सकते हैं। टाइगर एक्सप्रेस का उद्घाटन तो हो गया है लेकिन इसका नियमित परिचालन अक्टूबर से शुरू होगा।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top