आप यहाँ है :

राष्ट्रपति को रिश्वत देने की कोशिश के आरोप में सैमसंग के मुखिया को जेल भेजा

सीओल। कारोबार की दुनिया में भले ही सैमसंग अर्श पर हो, लेकिन ग्रुप के चीफ जे. वाई. ली को जेल के फर्श पर लेटना पड़ रहा है। 4 मिलियन डॉलर के आलीशान बंगले में रहने वाले दुनिया की दिग्गज स्मार्टफोन कंपनी सैमसंग के चीफ ली को शुक्रवार को राष्ट्रपति को रिश्वत देने की पेशकश के आरोप में अरेस्ट कर लिया गया था। अब 6.6 स्क्वेयर मीटर का डिटेंशन सेंटर ही उनका घर है, जिसके एक कोने पर टॉइलट है। फर्श पर बिछा गद्दा ही फिलहाल दुनिया की इस दिग्गज कारोबारी हस्ती का बिस्तर है। ली ने इस मामले में अपनी ओर से किसी गलती से इनकार किया है। सोल डिटेंशन सेंटर के एक अधिकारी ने बताया, ‘ली को सिंगल सेल में रखा गया है और उन्हें अन्य कैदियों से मिलने-जुलने की अनुमति नहीं है।’ इस डिटेंशन सेंटर में आमतौर पर गिरफ्तार किए गए राजनेताओं और कारोबारियों को ही रखा जाता है।

अधिकारी ने बताया, ‘जैसा कि आप जानते हैं यह बहुत बड़ा केस है और इस मामले से जुड़े तमाम आरोपी पहले ही यहां हैं।’ जेल अधिकारी यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ली इस मामले के अन्य आरोपियों के साथ बातचीत न कर सकें। उन्होंने बताया कि इसी वजह से ली को सिंगल सेल में रखा गया है ताकि वह किसी के साथ संपर्क में न रह सकें। अधिकारी ने कहा कि यदि ऐसा होता है तो सबूतों के नष्ट होने की भी आशंका है।
ली के वकीलों ने फिलहाल कोई टिप्पणी करने से इनकार किया है। दो बच्चों के पिता और तलाकशुदााा ली की कुल संपत्ति 6.2 अरब डॉलर से ज्यादा की है। सोल स्थित उनका बंगला 4 मिलियन डॉलर का है। जिस सैमसंग ग्रुप का वह नेतृत्व करते हैं, वह दुनिया में स्मार्टफोन्स, फ्लैट स्क्रीन टेलिविजन्स और मेमोरी चिप्स का सबसे बड़ा मैन्युफैक्चरर है।

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top