आप यहाँ है :

रामकथा का विश्वसंदर्भ महाकोश’ का लोकार्पण और अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी 30 को

हैदराबाद। साहित्यिक सांस्कृतिक शोध संस्था (मुंबई) के तत्वावधान में “रामकथा का विश्वसंदर्भ महाकोश” के प्रथम खंड ‘लोकगीत तथा लोककथाओं मे श्रीराम का संदर्भ’ का लोकार्पण दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में 30 नवंबर (मंगलवार) को केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे एवं राम साहित्य के विशिष्ट विद्वानों द्वारा किया जाएगा।

संस्था के स्थानीय प्रतिनिधि प्रो. ऋषभदेव शर्मा ने जानकारी दी कि इस अवसर पर “रामकथा में सुशासन” विषय पर केंद्रित अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी भी संपन्न होगी। कार्यक्रम सुबह साढ़े आठ बजे से साढ़े छह बजे तक चलेगा। रामनामी संप्रदाय तथा ललित सिंह ठाकुर द्वारा “छत्तीसगढ़ के वनवासी राम” पर विशेष प्रस्तुति दी जाएगी। प्रतिभागिता के लिए पंजीकरण साहित्यिक सांस्कृतिक शोध संस्था लिंक पर कराया जा सकता है।0

प्रेषक-
डॉ. गुर्रमकोंडा नीरजा

सह-संपादक, ‘स्रवंति’

हैदराबाद

नीरजा

saagarika.blogspot.in
http://hyderabadse.blogspot.in

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top