आप यहाँ है :

पश्चिम रेलवे द्वारा वर्ष 2022-2023 में 1.21 करोड़ रुपये का राजस्‍व रेकॉर्ड राजस्व एकत्र किया 

पश्चिम रेलवे चर्चगेट में अपने भव्य और हेरिटेज मुख्यालय से लेकर अपने स्वच्छ एवं सुंदर स्टेशनों तक संभावित कई शूटिंग अनुकूल स्थानों से युक्‍त है, जो फिल्म निर्माताओं के लिए सुविधाजनक और सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प हैं।

वित्तीय वर्ष 2022-23 (नवंबर, 2022 तक) के दौरान पश्चिम रेलवे के विभिन्न स्थानों पर आठ फीचर फिल्मों, तीन वेब सीरीजों, एक विज्ञापन, सामाजिक जागरूकता की दो वृत्तचित्रों और एक टीवी धारावाहिक सहित कुल 15 फिल्मों आदि की शूटिंग की गई है। पिछले दो वर्षों के दौरान विभिन्न फिल्म निर्माताओं और प्रोडक्शन हाउसों द्वारा पश्चिम रेलवे के विभिन्न स्थानों पर लगभग 34 फिल्मों की शूटिंग की गई।

पश्चिम रेलवे ने इस वित्तीय वर्ष में नवंबर, 2022 तक अपने विभिन्न परिसरों और रेल डिब्बों को फिल्म शूटिंग के लिए प्रदान कर 1.21 करोड़ रुपये (एक करोड़ इक्कीस लाख) से अधिक का राजस्‍व अर्जित किया है। पश्चिम रेलवे ने पिछले वित्तीय वर्ष 2021-22 में 67 लाख रुपये का राजस्‍व अर्जित किया था, जबकि वर्ष 2019-20 में यह 1.05 करोड़ रुपये और वर्ष 2018-19 में 1.30 करोड़ था।

गत वर्षों में पश्चिम रेलवे लंच बॉक्स, हीरोपंती 2, गब्बर इज बैक, एयरलिफ्ट, पैडमैन, रा.वन, फैंटम, एक विलेन रिटर्न्स, ये जवानी है दीवानी, राधे, लक्ष्मी बॉम्ब, काई पो चे, आत्मा, घायल रिटर्न, कमीने, हीरोपंती, हॉलिडे, थुपकी (तमिल फिल्म), डी-डे, शेरशाह, बेल बॉटम, ओएमजी 2 और गुजराती फिल्म कच्छ एक्सप्रेस एवं लोचा लापसी तथा मराठी फिल्म आपदी थपड़ी जैसी कई प्रतिष्ठित और ब्लॉकबस्टर फिल्मों की गवाह बनी है। कई वेब सीरीज़ जैसे एक्स-रे, अभय 2, ब्रीथ इनटू द शैडोज़, डोंगरी टू दुबई आदि और केबीसी प्रोमो भी पश्चिम रेलवे के विभिन्‍न स्‍थानों पर शूट किए गए।

कुछ स्थान जो अब सिनेमा प्रेमियों के मानस पटल पर अंकित हो गए हैं। इनमें मुंबई सेंट्रल टर्मिनस स्टेशन, चर्चगेट मुख्यालय और स्टेशन भवन, साबरमती स्पोर्ट्स ग्राउंड, गोरेगांव स्टेशन, जोगेश्वरी एटी (यार्ड), लोअर परेल वर्कशॉप, कांदिवली एवं विरार कारशेड, केल्वे रोड, पारडी रेलवे स्टेशन, कालाकुंड रेलवे स्टेशन, पातालपानी रेलवे स्टेशन, मुंबई सेंट्रल और वलसाड के बीच चलती ट्रेन तथा गोरेगांव में ईएमयू ट्रेन की शूटिंग शामिल है।

मुंबई सेंट्रल स्टेशन फिल्म शूटिंग के लिए अनुकूल सुविधाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है। मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के आगमन/प्रस्‍थान के लिए लंबे प्लेटफॉर्मों वाला यह स्टेशन ट्रेन यात्रा से संबंधित दृश्यों को शूट करने के लिए एक आदर्श स्थान है। रात के समय शूटिंग करने के लिए यह स्टेशन और भी उपयुक्‍त है। यहाँ सभी शूटिंग वाहनों की पार्किंग के लिए पर्याप्त पार्किंग सुविधा भी उपलब्‍ध है। बॉडी गार्ड, फटा पोस्टर निकला हीरो, वंस अपॉन ए टाइम इन मुंबई, जज़्बा, ये जवानी है दीवानी, हॉलीडे, तमिल फिल्म ‘थुपकी’ जैसी कई लोकप्रिय फिल्मों की शूटिंग मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर की गई है।

पश्चिम रेलवे के गोरेगांव स्टेशन पर लोकल ट्रेनों के साथ-साथ मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के साथ भी शूटिंग करने की सुविधा है। इस स्टेशन का लंबा प्लेटफॉर्म सीन की जरूरत और मांग के अनुसार सेट बनाने के लिए अत्‍यंत उपयोगी है। यह स्टेशन रात के समय भी शूट करने के लिए उपयुक्‍त है।

 जोगेश्वरी यार्ड (एटी) भी फिल्म शूटिंग के लिए एक सुविधाजनक स्थान है। इस स्‍थान का मुख्य यूएसपी मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के साथ-साथ मालगाड़ी के साथ शूट करने की सुविधा है।

पश्चिम रेलवे पर एक अन्य लोकप्रिय स्थान चर्चगेट स्टेशन के ऊपर स्थित प्रशासनिक भवन है। एयरलिफ्ट, गब्बर इज बैक, फैंटम, लंचबॉक्स, डी-डे आदि फिल्मों की शूटिंग यहां की गई थी। यह स्थान एक सरकारी कार्यालय के सेट-अप का रेडीमेड सेट प्रदान करता है।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर ने बताया कि प्रोडक्शन हाउसों को बिना किसी परेशानी के अनुमति देने की पहल से पश्चिम रेलवे को फिल्म शूटिंग से रिकॉर्ड राजस्व अर्जित करने में मदद मिली है। इस हेतु सिंगल विंडो सिस्टम लागू किया गया है। इस प्रक्रिया के सरलीकरण ने फिल्म और टीवी कंपनियों को जनसंपर्क नियमावली के अनुसार आवश्यक कागजातों को जमा करने के बाद सुगमतापूर्वक अनुमति प्राप्त करने के लिए सक्षम बनाया है।

इस प्रकार, पश्चिम रेलवे विभिन्न फिल्म उद्योग, टेलीविजन धारावाहिकों, विज्ञापनों और ओटीटी प्लेटफॉर्मों के लिए भी एक बेहद लोकप्रिय ठिकाना है। फिल्म-शूटिंग की अनुमति में सुगमता के साथ पश्चिम रेलवे सेल्युलाइड सपने बुनने वालों के बीच पसंदीदा शुटिंग स्‍थल बनकर उभरा है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Get in Touch

Back to Top