ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

रिलायंस जियोः हर कदम पर धोखा ही धोखा

देशभर के 60 लाख लोगों ने जियो फोन की बुकिंग करवा ली है, इसके बाद कंपनी ने अपनी फोन से जुड़ी शर्ते बताई हैं। इसमें कई ऐसी बातें हैं, जिन्हें जानकारी आपको सदमा लग सकता है। टेक एक्सपर्ट्स का कहना है कि कंपनी की छुपी हुई शर्तें थी, जो तब सामने लाईं गईं जब 60 लाख लोगों ने फोन बुक करवा लिया। एक्सपर्ट्स इसे धोखा बता रहे हैं।

#पहला धोखा
कम्पलसरी रिचार्ज के बारे में नहीं बताया
जियो फोन की लॉन्चिंग और बुकिंग के समय भी कंपनी ने यह नहीं बताया कि यूजर्स को हर महीने रिचार्ज करवाना कम्पलसरी है। सालभर में आपको 1500 रुपए का रिचार्ज करवाना ही होगा। 1500 रुपए के हिसाब से तीन साल का अमाउंट 4500 रुपए होता है। बुकिंग अमाउंट आप से 1500 रुपए लिया गया है। कुल मिलाकर यह राशि 6000 रुपए हो गई। यानि 6 हजार रुपए आपको खर्च करना ही होंगे।

# दूसरा धोखा

पेनाल्टी के बारे में नहीं बताया

यदि आप 3 साल से पहले जियो फोन वापिस कर देते हैं तो कंपनी आप से पेनाल्टी वसूल करेगी। इस बारे में भी फोन लॉन्चिंग के समय नहीं बताया गया। 12 महीने से पहले आप फोन वापिस करते हैं तो आपको 1500 रुपए कंपनी को देना होंगे, वो भी जीएसटी के साथ। यानि करीब 1700 रुपए से ज्यादा की राशि आपको अपनी जेब से देना होगी। 12 से 24 महीने के बीच फोन जमा करते हैं तो आपको 1000 रुपए और जीएसटी कंपनी में जमा करना होगा। 24 से 36 महीने के बीच जमा करते हैं तो आपको 500 रुपए और जीएसटी कंपनी में जमा करना होगा।

#तीसरा धोखा

वॉट्सऐप के बारे में भी उलझाते रहे

फोन लॉन्चिंग के समय से ही यूजर्स के बीच यह सवाल था कि जियो फोन में वॉट्सऐप होगा या नहीं। इस बारे में कंपनी ने बुकिंग के समय कुछ स्पष्ट नहीं किया। मीडिया रिपोर्ट्स आते रहीं कि फोन में वॉट्सऐप लाने पर काम किया जा रहा है। हालांकि अब यह स्पष्ट हो चुका है कि जियो फोन में वॉट्सऐप काम नहीं करेगा। इसमें हॉटस्पॉट भी होगा। इसे लेकर जानकारी दे दी गई थी।

#चौथा धोखा
यदि आप जियो फोन में हर महीने रिचार्ज नहीं करवाते हैं तो रिलायंस जियो की टीम आप से फोन वापिस ले लेगी। यह शर्त भी पहले नहीं बताई गई थी। फोन डैमेज हो गया तो कंपनी इसे रिफंड भी नहीं करेगी। तीन साल पूरे के बाद 3 महीने से ज्यादा आप लेट हुए तो फोन वापिस भी नहीं लिया जाएगा। आपको रिफंड अमाउंट भी नहीं दिया जाएगा। यह शर्त भी पहले नहीं बताई गई थी।

साभारः https://www.bhaskar.com/ से

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top