आप यहाँ है :

महाप्रबंधक द्वारा पश्चिम रेलवे निजी फ्रेट टर्मिनलों की प्रगति की समीक्षा

मंबई। सरकार द्वारा अनलॉक 1.0 की घोषणा के बाद पश्चिम रेलवे ने 6 जून, 2020 को वीडियो लिंक के माध्यम से अपनी पहली वेब कॉन्फरेंस फ्रेट ग्राहकों के साथ आयोजित की थी। इस श्रृंखला को जारी रखते हुए, पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल की ओर से 20 जून, 2020 को दूसरी वेब कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई, जिसमें वर्तमान वित्तीय वर्ष 2020-2021 के लिए लक्षित पीएफटी और साइडिंग्स की प्रगति की समीक्षा के लिए प्राइवेट फ्रेट टर्मिनल / प्राइवेट साइडिंग ग्राहकों के प्रमुख शामिल हुए।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रविन्द्र भाकर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, यह वीडियो कॉन्फ्रेंस महाप्रबंधक श्री कंसल द्वारा सभी हितधारकों को एक मंच पर लाने और वास्तविक समय के आधार पर मुद्दों को हल करने के लिए एक विशेष पहल थी। ऑनलाइन बैठक में इन पीएफटी और साइडिंग्स के शीर्ष अधिकारियों और सम्बंधित विभागों के प्रधान प्रमुखों ने पश्चिम रेलवे के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ भाग लिया। बैठक में निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए एक उपयोगी चर्चा हुई। इस ऑनलाइन बैठक में प्लासर इंडिया, वंडर सीमेंट, कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (CONCOR), गुजरात पिपावाव पोर्ट लिमिटेड, APSEZ और Aarya Ocean लॉजिस्टिक्स पार्क प्राइवेट लिमिटेड ने भाग लिया। बैठक में महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल ने इस बात पर ज़ोर दिया कि पश्चिम रेलवे के अधिकारी हमेशा उपलब्ध हैं, इसलिए परियोजना की प्रगति को प्रतिकूल रूप से प्रभावित करने वाले किसी भी आसन्न मुद्दे को उनके तुरंत ध्यान में लाया जा सकता है। न केवल रेलवे के लिए बल्कि अर्थव्यवस्था के लिए भी यह ऑनलाइन बैठक वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय की पृष्ठभूमि में काफी महत्वपूर्ण थी। यह बैठक निश्चित रूप से रेलवे और निजी संस्थाओं दोनों के लिए काफी लाभदायक रही।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top