ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

आरपीएफ ने लौटाए 4 लाख रुपये मूल्य के आभूषण और नकदी

मुंबई। यात्रियों और उनके सामान की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पश्चिम रेलवे का सुरक्षा विभाग हमेशा तत्पर रहता है। इसी क्रम में हाल ही में 25 जुलाई, 2021 को लगभग 3.84 लाख रुपये के आभूषण, नकदी और घड़ी से भरे बैग को उसके सारे‌ सामान के साथ रेल सुरक्षा बल द्वारा उसके वास्तविक मालिकाना हक वाले यात्री को वापस कर दिया गया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, चेन्नई निवासी एक यात्री सुश्री नेहा निर्मल जैन, आयु – 20 वर्ष, ट्रेन संख्या 04707 बीकानेर-दादर स्पेशल से यात्रा कर रही थी और बोरीवली स्टेशन पर ट्रेन से उतर गई। बोरीवली स्टेशन के प्लेटफार्म नं. 7 पर उनके काले रंग का बैग गलती से एक अन्य यात्री के बैग से बदल गया। सुश्री नेहा ने इस गड़बड़ी के सम्बंध में बोरीवली आरपीएफ पोस्ट को सूचित किया।  

आरपीएफ टीम द्वारा सीसीटीवी फुटेज की जाँज में पाया गया कि सुश्री नेहा का काले रंग का बैग एक अन्य यात्री के सामान के साथ एक कुली द्वारा ले जाया गया था और बोरीवली स्टेशन के ईस्ट साइड पार्किंग क्षेत्र में पार्क किए गए वाहन में रखा गया था। हालांकि वाहन का पंजीकरण नंबर स्पष्ट रूप से दिखाई नहीं दे रहा था, फिर भी आरपीएफ की टीम ने खार पश्चिम निवासी श्री जागरण जैन के वाहन का पता लगाने में कामयाबी हासिल की। उन्होंने पुष्टि की कि बैग गलती से बदल गया है। तब उन्हें बोरीवली आरपीएफ पोस्ट पर बैग के साथ आने के लिए कहा गया। दोनों यात्रियों से विधिवत सत्यापन के बाद उनके बैगों को सही मालिकों को सौंप दिया गया। महिला यात्री के बैग में ₹ 3,75,000/- के आभूषण, ₹ 5000/- नकद और ₹ 4000/- की घड़ी थी।  बैग में रखे सामान की कुल कीमत 3,84,000 रुपये थी। दोनों यात्रियों ने आरपीएफ बोरीवली की जमकर प्रशंसा की और उनके प्रयासों के लिए आभार व्यक्त किया। उल्लेखनीय है कि पश्चिम रेलवे के मुंबई मंडल के आरपीएफ स्टाफ द्वारा 2021 में अभी तक 53 लाख रु. से अधिक मूल्य के गुम हुए सामान को 376 यात्रियों को सौंपा जा चुका है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top