ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मुंबई में मुसीबत में फँसे लोगों के लिए देवदूत बने संघ के कार्यकर्ता

आज जब देश एक महामारी के संकट से गुजर रहा है और देशवासी लाॅक आऊट का सामना कर रहे हैं, इसमें सबसे अधिक कठिनाई झेल रहे हैं अपने गरीब मजदूर और उनके परिवार!
ऐसे संकट के काल में सर्व प्रथम आगे आया है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसको साथ देने चल पडे हैं, अनेक सेवा भावी व्यक्ति और संस्थान ।

जैसे ही प्रधानमंत्री जी ने पहला 21 दिनों का लाॅक आऊट घोषित किया, मुंबई में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की जनकल्याण समिति और केशवसृष्टि माय ग्रीन सोसायटी के कार्यकर्ता कमर कसकर काम में लग गए । पहला लक्ष्य ये रखा गया कि दैनिक मजदूरी पर जीनेवाले कामगार और उनके परिवार के लोगों को तैयार भोजन पहुंचाने की व्यवस्था करनी चाहिए । इसलिए एक सज्जन ने अंधेरी में अपने सभागृह का उपयोग करने की व्यवस्था कर दी । फिर केवल कुछ घंटों में “अन्नपूर्णा योजना ” का शुभारंभ किया गया । गरम गरम खाना तैयार होने लगा ।मुंबई महानगर पालिका के अधिकारीयों की सहायता से बेघर लोग, मजदूर, पुलिस कर्मी, सफाई कर्मचारी आदि लोगों को फूड पॅकेटस् पहुंचाने का काम भी तुरंत शुरू हुआ ।

एक किचन पर्याप्त न होने से कुछ ही दिनों में छोटे मोटे 17 किचन स्थान स्थान पर तैयार किये गये । हर दिन एक लाख से अधिक लोगों को दो समय तैयार खाना पहुंचाने की व्यवस्था हो गयी जो आज 22 दिनों से लगातार चल रही है । 40 हजार पॅकेटस् मुंबई नगरपालिका के कर्मचारी ले जाते हैं और अपनी व्यवस्था से बंटवारा करते हैं । तथा 60 हजार पॅकेटस् संघ के स्वयंसेवक और अन्य संस्थाओं के कार्यकर्ता पूरी मुंबई में जगह जगह पर पहुंचाते हैं । इस कार्य में 7 हजार से अधिक लोग सेवा दे रहे हैं । अन्नदान के इस सेवा में कई व्यक्ति, ट्रस्ट और कंपनियां अपना आर्थिक सहयोग दे रहे हैं । रोटरी क्लब, लायन्स क्लब, एस्सेल वर्ल्ड, राम सेवा संघ, भारत विकास परिषद, श्री हरि सत्संग समिति, राधा स्वामी सत्संग, समस्त महाजन, महावीर इंटरनेशनल, पंचायती सेवा, माहेश्वरी समाज, अग्रवाल समाज राजस्थानी सेवा संघ और कई अन्य संस्थाओं का निरपेक्ष व निरंतर सहयोग मिल रहा है ।

राजस्थानी मंडल द्वारा प्रतिदिन ४ हजार लोगों को भोजन वितरण

राजस्थानी मंडल लोखंडवाला अंधेरी द्वारा जब से कोरोना लोक डाउन हुआ तब से अध्यक्ष श्री ओमप्रकाश शाह के नेतृत्व में उनकी पहल से लगातार 3500 से 4,000 जरूरतमंदों को झोपड़ी के दरवाजे पर खाना पहुंचा रहा है।

मंडल द्वारा म्हाडा टेलीफोन एक्सचेंज के पास खाना बनाकर आनंद नगर ,बैहरामबाग, वर्सैवा विलेज ,सुरेश नगर, आरटीओ ,सरदार पटेल नगर, सात बंगला आदि जगहों पर खाना बंटवा रहे हैं। खाने में रोजाना स्वाद बदलने के हेतु कभी खिचड़ी कभी पुलाव, राजमा चावल छोला चावल ,दाल चावल मीठे चावल आदि , बदल-बदल कर बनाते रहते हैं ।

श्री सत्यनारायण जी महाराज के विशेष सहयोग की वजह से बहुत ही शुद्धता के साथ स्वादिष्ट खाना सबको पहुंचा रहे हैं। इस कार्य में राजस्थानी मंडल के मंत्री श्री महेश जी तोदी एंव अशोक जी गोयलजी जी जान से लगे हुए हैं । श्री सुनील जी जीवराजका का विशेष सहयोग है जिन्होंने खाना बनाने का पूरा खर्च वहन किया है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top