आप यहाँ है :

एनडीटीवी इंडिया में आया छँटनी का मौसम, सिक्तार देव की बिदाई

एनडीटीवी समूह के हिंदी न्यूज चैनल एनडीटीवी इंडिया में लगातार एम्पलॉइज को पिंक स्लिप थमाई जा रही है। अब आ रही जानकारी के मुताबिक चैनल की सीनियर एडिटर सिक्ता देव भी इसका शिकार बन गई है। कंपनी ने उन्हें भी विदाई पत्र थमा दिया है।

साथ ही खबर है कि मैनेजमेंट में चैनल में कार्यरत एक और एंकर नगमा सहर के भीकॉन्ट्रैंक्ट में परिवर्तन करते हुए उनकी सैलरी में काफी कमी की है।

करीब दो दशक से अधिक समय से सक्रिय पत्रकारिता कर रहीं सिक्ता की गिनती उन एंकर्स में होती है, जो स्टूडियों से अधिक फील्ड रिपोर्टिंग को तरजीह देते हैं। 2003 में एनडीटीवी से जुड़ने वालीं सिक्ता भोपाल में पली-बढ़ी है। उन्होंने दिल्लीक के एक जाने-माने कालेज में पढ़ाई के बाद पत्रकारिता की तरफ रुख किया। उन दिनों टीवी पत्रकारिता अपने शैशवकाल में थी जब सिक्ताक इसका हिस्सा बनी थीं। 1995 में वे ‘आजतक’ से जुड़ीं जब दो घंटे का ये शो दूरदर्शन पर प्रसारित होता था। उन्होाने क्रिकेट मैच फिक्सिंग से लेकर नाइन इलेवन, कंधार कांड, संसद और अक्षरधाम पर आतंकी हमला, अबू सलेम की वापसी और समझौता एक्सिप्रेस ब्लासस्टन जैसे अहम मसलों की रिपोर्टिंग और एंकरिंग की।

सिक्तार देव देश की उन गिनी-चुनी पत्रकारों में से एक हैं जिनका रिपोर्टिंग और एंकरिंग के साथ ही कलम पर भी पूरा अधिकार है। विषय की वह मोहताज नहीं हैं। सिक्ताा देव के लाइव पैनल डिस्कबशन सबसे अलग होते हैं। मध्य प्रदेश के एक आईपीएस अफसर की बेटी और ओडिशा के एक राजघराने से ताल्लुेक रखने वाली सिक्तास आम आदमी के दर्द को बखूवी बयां कर रहीं हैं।

साभार-http://samachar4media.com/ से



सम्बंधित लेख
 

Back to Top