आप यहाँ है :

दिल्ली मशीन टूल एक्सपो का दूसरा संस्करण प्रगति मैदान में शुरू

दिल्ली। दिल्ली मशीन टूल एक्सपो 2017 आज से शुरू हुआ। यह उत्तर भारत की एक बी2बी मशीन उपकरण प्रदर्शनी है। इस प्रदर्शनी का उद्घाटन ऑटोमोटिव कॉम्पोनेंट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एसीएमए) के प्रेसिडेंट श्री रतन कपूर, आइएमटीएमए के प्रेसिडेंट श्री पी. जी. जडेजा, आइएमटीएमए के वाइस प्रेसिडेंट श्री पी. रामदास और आइएमटीएमए के महानिदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री वी. अंबु ने किया।

इंडियन मशीन टूल्स मैन्युफैक्चर्स एसोसिएशन (आइएमटीएमए) द्वारा आयोजितयह प्रदर्शनी 13 अगस्त 2017 तक चलेगी, जिसमें नई विनिर्माण तकनीकों की नुमाइंश की जा रही है और 240 से भी ज्यादा प्रदर्शकों के साथ यह एक्सपो मेटल कटिंग और मेटल फॉर्मिंग दोनों के लिए धातु आधारित मशीन उपकरणों को शामिल किया गया है। इसमें स्वचालित यंत्र और रोबोटिक्स, टूलिंग सिस्टम, सीएडी/सीएएम और अन्य तकनीकें भी हैं, जो आज के विनिर्माण उद्योग के लिए आवश्यक हैं।

उद्घाटन के अवसर पर ऑटोमोटिव कम्पोनेंट्स मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (एसीएमए) के प्रेसिडेंट श्री रतन कपूर ने कहा, ‘मशीनी उपकरण विनिर्माण उद्योग की रीढ़ है और इसके विकास में इसका बेहद योगदान है। ऑटोमोटिव घटक निर्माताओं की बढ़ती जरूरतों की पूर्ति के लिए एसीएमए और आइएमटीएमए, दोनों मिलकर काम कर रहे हैं और आने वाले वर्षों में वे ऐसे ही काम करते रहेंगे। इस तरह की प्रदर्शनियां क्षेत्र में निर्माताओं को उन तकनीकियों को ढूंढ़ने में और इनके इस्तेमाल में सक्षम बनाती हैं, जिनकी तलाश में वे होते हैं।’

आइएमटीएमए के प्रेसिडेंट श्री पी. जी. जडेजा ने कहा, ‘अपनी विभिन्न प्रदर्शनियों, सेमिनारों, सम्मेलनों व प्रौद्योगिकी केंद्रों द्वारा कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए उद्योग कार्यबल के प्रशिक्षण जैसी विभिन्न पहलों के जरिये मशीन उपकरण और विनिर्माण उद्योग के समग्र विकास में आइएमटीएमए उत्प्रेरक के रूप में कार्य करता है। अगले चार दिनों में 100 से ज्यादा वाणिज्य प्रतिनिधिमंडल एक्सपो का दौरा करेंगे, यह सभी ऑटो पार्ट्स, ऑटोमोबाइल्स, रेलवे, रक्षा, एयरोस्पेस, ऊर्जा और भारी उद्योग से संबंधित लोग होंगे।’

प्रतिनिधिमंडलों का स्वागत करते हुए आइएमटीएमए के महानिदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री वी. अंबु ने कहा, ‘हमारे पास 242 प्रदर्शक हैं, जो मेटल कटिंग और मेटल फॉर्मिंग के अलावा मेट्रोलॉजी व वेल्डिंग के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी समाधानों और नवाचारों का प्रदर्शन कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में दस देश, ऑस्ट्रेलिया, चेक रिपब्लिक, चीन, जर्मनी, इटली, जापान, कोरिया, ताईवान, अमेरिका समेत भारत शामिल हो रहे हैं। हमें चार दिनों की प्रदर्शनी के दौरान दिल्ली के साथ-साथ पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और हरियाणा के औद्योगिक शहरों से अच्छी खासी तादाद में आगंतुकों के आने की उम्मीद हैं।’

आइएमटीएमए के विषय मेंः प्रोत्साहनात्मक समर्थन के लिए वर्ष 1946 में गठित इंडियन मशीन टूल मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन (आइएमटीएमए) मशीन टूल उद्योग की वृद्धि और विकास में एक प्रमुख भमिका निभाता है। आइएमटीएमए भारत में मशीन टूल उद्योग की शीर्ष निकाय है एवं लगभग 500 कंपनियां इसकी सदस्य हैं, जो मेटल कटिंग व मेटल फॉर्मिंग मशीन्स, एसेसरीज, कटिंग टूल्स एवं संबद्ध उपकरण की विशाल श्रृंखला का निर्माण करती हैं। इस एसोसिएशन ने पिछले अनेक वर्षों में घरेलू व विदेशी बाजारों दोनो में उद्योगों की स्पर्धात्मकता को बढ़ाने के लिए उत्पादकता, गुणवत्ता, तकनीक, ग्राहक संतुष्टि, इत्यादि जैसे मुद्दों पर अपना ध्यान केंद्रित करने के लिए अपने आप को रुपांतरित किया है।

दिल्ली मशीन टूल एक्सपो 2017 के विषय मेंः उत्तर भारत प्रमुख इंजीनियरिंग और मशीन उपकरणों उद्योगों का केंद्र है। दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड, आदि जैसे उत्तरी राज्यों में मैन्युंफैक्चतरर्स अत्याधुनिक तकनीकी समाधानों और नवाचारों को देखने के लिए एक आम मंच की तलाश में होते हैं। ये मैन्युफैक्चररर्स ज्यादातर देश के टियर 2 और टियर 3 शहरों से होते हैं, जो दिल्ली मशीन टूल एक्सपो में अपनी विनिर्माण गतिविधियों के लिए समाधान ढूढ़ेंगे। यह प्रदर्शनी पूरे उत्तर भारत में फैले लघु व मध्य उद्योगों (एसएमई) को मशीन उपकरण उद्योग में वैश्विक रुझान देखने का अवसर देती है। दिल्ली मशीन टूल एक्सपो 2017 व्यापार से व्यापार तक (बी2बी) की प्रदर्शनी होगा, जिसमें ऑटोमोबाइल्स, ऑटो पार्ट्स, एयरोस्पेस, कैपिटल गुड्स, रक्षा उपकरण, इलेक्ट्रिकल/इलेक्ट्रॉनिक्स और कई क्षेत्रों से औद्योगिक प्रतिनिधियों की मौजूदगी होगी। यह एक्सपो विनिर्माण क्षेत्र में दिख रहे विकास की दिशा में कारोबार शुरू करने के लिए सबसे बेहतरीन मंच मुहैया कराएगा।

संपर्क

Shailesh K. Nevatia
# 9716549754

Print Friendly, PDF & Email


Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top