आप यहाँ है :

वरिष्ठ पत्रकार एनके सिंह हिन्दुस्तान समाचार के प्रमुख संपादक बने

देश की एकमात्र बहुभाषी न्यूज एजेंसी ‘हिन्दुस्थान समाचार’ अब बदलाव की राह पर चल पड़ी है। दरअसल, यह खबर तब सामने आई जब जानकारी मिली कि इस एजेंसी को नए प्रमुख संपादक  मिल गए हैं। बता दें कि अब ‘हिन्दुस्थान समाचार’ के प्रमुख संपादक  जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार एन.के.सिंह बनाए गए हैं।

टीवी मीडिया पर नजर रखने वाली संपादकों की संस्था बीईए के महासचिव रह चुके एन.के. सिंह साफ-सुथरी और समाजोन्मुखी पत्रकारिता के पक्षधर हैं। वे टीआरपी की पूरी तरह से खिलाफत करते हैं। उनका मानना है कि मात्र दस हजार दो सौ मशीन लगाकर एक सौ बीस करोड़ लोगो का मत जान लेना गलत है। एन.के.सिंह की गिनती इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के क्षेत्र में गंभीर संपादकों में की जाती है। बेबाक अंदाज और जबरदस्त भाषा शैली ही एन.के. सिंह को अलग पहचान देती है। पत्रकारिता जगत में पिछले तीन दशकों से भी ज्यादा समय से अपनी सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं।  

वहीं मिली जानकारी के मुताबिक, एन.के.सिंह की देखरेख में ही ‘हिन्दुस्थान समाचार’ का व्यापक विस्तार किया जाएगा। इतना ही नहीं यह एजेंसी अब इलेक्ट्रानिक मीडिया की ओर कदम बढ़ाने की कवायद में है जिसकी घोषणा गुरुवार को एजेंसी के अध्यक्ष व भाजपा के राज्यसाभा सांसद आर.के. सिन्हा करेंगे। प्रिंट के साथ अब बहुभाषाई विडियो एजेंसी के तौर पर इसे लॉन्च करने की पूरी तैयारी की जा रही है। इसके अतिरिक्त यह एजेंसी अब सभी रिपोर्टर्स और कॉरेस्पोंडेंट्स का एक ट्रेनिंग कैंप का भी आयोजन कर रही है।। बताया जा रहा है कि प्रशिक्षण कार्यक्रम 22 से 24 जून तक देहरादून में आयोजित किया जाएगा।  

साथ ही एजेंसी अपने पोर्टल को भी रिलॉन्च करते हुए कई भाषाओं की खबरें एक ही मंच के जरिए देने की भी पूरी प्लानिंग कर चुकी है। पोर्टल के नाम में भी बदलाव की सूचना है।

गौरतलब है कि ‘हिन्दुस्थान समाचार’ 1948 में स्थापित सबसे पुरानी न्यूज एजेंसी है। हिन्दुस्थान समाचार समूह वर्तमान में 3 पत्रिकाओं का प्रकाशन कर रहा है- नवोत्थान (मासिक), यथावत (पाक्षिक) और युगवार्ता (साप्ताहिक)। वर्तमान में यह सेवा हिंदी, मराठी, गुजराती, नेपाली, उड़िया, असमी, कन्नड़, तमिल,मलयालम, तेलगु, सिंधी, संस्कृत, पंजाबी और बांग्ला में प्रदान की जा रही है। वहीं अन्य भाषाओं को भी कवर करने के प्रयास चल रहे हैं।  

‘हिन्दुस्थान समाचार’ के प्रमुख संपादक  के पद पर नवनियुक्त वरिष्ठ पत्रकार एन.के. सिंह मूलरूप से बिहार के सिवान जिले के रहने वाले हैं। उनकी पढ़ाई-लिखाई यूपी की राजधानी लखनऊ में हुई है। लखनऊ से ही उन्होंने अंग्रेजी साहित्य में ग्रेजुएशन किया, जिसके बाद दर्शनशास्त्र से उन्होंने पोस्ट ग्रेजुएशन की उपाधि हासिल की।

1979 में एन.के. सिंह ने पत्रकारिता में कदम रखा। लिखने-पढ़ने का शौक उन्हें बचपन से ही था, जिसके चलते ही वे पत्र-पत्रिकाओं में आलेख लिखा करते थे। शुुरुआती दिनों में उनके लेख ‘नार्दन इंडिया’ और ‘अमर उजाला’में छपा करते थे। लेकिन करियर की शुरुआत उन्होंने ‘नवजीवन’ के साथ की, जहां वे मात्र तीन महीने तक ही रहे। अंग्रेजी में अच्छी पकड़ होने के चलते वे ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़ गए, जहां उन्होंने 5 साल तक काम किया। इसके बाद वे ‘पॉयनियर’ में आ गए। ‘पॉयनियर’ के लिए उन्होंने लखनऊ, कानपुर, बनारस और इलाहाबाद में भी काम किया।

एन.के. सिंह इनाडु ग्रुप के ‘न्यूज टाइम’ अखबार के लखनऊ संस्करण के साथ भी जुड़े। यहां रहते हुए उन्होंने इनाडु ग्रुप की ‘ईटीवी’ को लॉन्च कराया। ईटीवी में वे पॉलिटकल एडिटर व ग्रुप एडिटोरियल हेड के रूप में अपनी भूमिका निभा चुके हैं। इसके अतिरिक्त एन.के. सिंह साधना न्यूज, लाइव इंडिया जैसे कई अन्य चैनलों में भी अहम पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके है।

एन.के. सिंह को ‘पॉयनियर’ का ’10 साल’, ‘नेशनल हेराल्ड’ का ‘5 साल’ और ‘ईटीवी’ का ’16 साल’ का अनुभव है।  उन्हें पत्रकारिता में कुल 35 साल से भी ज्यादा का अनुभव है। पत्रकारिता में बतौर राजनीतिक संपादक के रूप में एन.के. सिंह का कार्यकाल काफी लंबे समय तक रहा है, जिसके चलते ही उन्हें बेहतर राजीनितक विश्लेषक माना जाता है। किसी भी राजनीति मुद्दें पर अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए उन्हें खबरियां चैनलों पर प्रदर्शित हो रहे प्रोग्रामों का हिस्सा भी बनाया जाता है। एन.के. सिंह ब्रॉडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन के सदस्य भी हैं।  

साभार- http://samachar4media.com से 



सम्बंधित लेख
 

Back to Top