आप यहाँ है :

श्री सुभाष चन्द्रा ने खेल उत्सव में दो दिवसीय मैराथन का शुभारंभ किया

हिसार। ज़ी व एस्सेल समूह के अध्यक्ष एवँ राज्यसभा सांसद श्री सुभाष चन्द्रा ने हरियाणा में अपने द्वारा गोद लिए पाँच गाँवों के लिए आयोजित मैराथन का शुभारंभ किया और इस अवसर पर उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित भी किया। उन्होंने इस आयोजन के लिए स्थानीय नागरिकों और प्रशासन के प्रति धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कहा, “हम ये प्रतियोगिताएँ हर साल आयोजित करेंगे और मुझे आशा और विश्वास है कि हर साल इसका स्वरूप बढ़ता ही चला जाएगा।“ इस अवसर पर सुभाष जी ने आशा वर्करों को साईकिल भी भेंट की।

उन्होंने कहा, “हमें सदलपुर, आदमपुर मंडी, सैलिन बारावाला, किशनगढ़ और आदमपुर गाँवों को आदर्श गाँव बनाने की दिशा में जिला परिषद का भरपूर सहयोग मिला है। हम सभी आपके इस सहयोग के लिए कृतज्ञ हैं और मुझे विश्वास है कि आने वाले सालों में भी आपका ये सहयोग हमें मिलता रहेगा।“

हाल ही के वर्षों में इस क्षेत्र में तेजी से हुए विकास की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा, “मुझे यह कहते हुए प्रसन्नता हो रही है कि इस क्षेत्र में लगभग 80 करोड़ की राशि के कार्य या तो पूरे हो चुके हैं या पूरे होने वाले हैं। कई परियोजनाओं पर काम लगातार चल रहा है। मुझे पूरा भरोसा है कि ये गाँव विकास के क्षेत्र में हरियाणा के अन्य गाँवों के मुकाबले अपनी अलग पहचान बनाएंगे। सुभाष चन्द्रा फाउंडेशन के हमारे प्रतिनिधि और सदलपुर, आदमपुर मंडी, सैलिन बारावाला, किशनगढ़ और आदमपुर (सबका SABKA) विकास संघ का एक नियमित कार्यालय यहाँ शुरु किया जाएगा और ये निश्चित किया जाएगा कि जो भी काम चल रहे हैं वे समय पर पूर्ण हों।“

उन्होंने कहा, “हम इसके साथ ही इसमें केंद्र सरकार से भी मदद लेंगे और मुख्य मंत्री द्वारा की गई घोषणाओं से जुड़े कामों पर भी ध्यान देंगे। हम इसके लिए सुभाष चन्द्रा फाउंडेशन के साथ ही एमपी लैड फंड से भी धनराशि दी जा रही है। ताकि इसका उपयोग विकास कार्यों को गति देने के लिए किया जा सके।”

हरियाणा की खेल गतिविधियों की चर्चा करते हुए उन्होंने प्रदेश के लोगों की इस बात की प्रशंसा की कि उनके योगदान से आज हरियाणा देश के लिए पदक जीतने वाले राज्यों में पहले नंबर पर है। उन्होंने युवाओं को अपनी शुभकामना देते हुए कहा कि वे अपना लक्ष्य ऊँचा रखें। उन्होंने कहा, ” जैसा कि मैं हमेशा कहता हूँ, अगर आपके मन में दृढ़ विश्वास हो और दृढ़ संकल्प हो तो कोई भी काम कठिन नहीं है।

दो दिवसीय महिला खेल उत्सव की शुरुआत के बाद सुभाषजी ने ने सबका ऑफिस (S.A.B.K.A Development Association) का शुभारंभ किया।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top