शुभांगी स्वरूप भारतीय नौसेना की पहली महिला पॉयलट बनी

कोच्चि। सब लेफ्टिनेंट शुभांगी स्वरूप भारतीय नौसेना की पहली महिला पायलट बन गई हैं। सोमवार को उन्होंने कोच्चि नवल बेस पर ऑपरेशनल ड्यूटी जॉइन की। नौसेना के अधिकारियों के मुताबिक, शिवांगी डोनियर सर्विलांस एयरक्राफ्ट उड़ाएंगी। आपको बता दें कि इसी साल एयरफोर्स में भी फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत फाइटर प्लेन उड़ाने वाली महिला पायलट बनी थीं।

जानकारी के मुताबिक, शुभांगी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा तैयार किए गए ड्रोनियर 228 एयरक्राफ्ट को उड़ाएंगी। इस प्लेन को कम दूरी के समुद्री मिशन पर भेजा जाता है। इसमें अडवांस सर्विलांस रेडार, इलेक्ट्रॉनिक सेंसर और नेटवर्किंग जैसे कई शानदार फीचर्स मौजूद हैं। इन फीचर्स के दम पर यह प्लेन भारतीय समुद्र क्षेत्र पर निगरानी रखेगा।

नेवी में पहली महिला पायलट बनने के बाद सब लेफ्टिनेंट शुभांगी ने कहा, ‘इसके लिए मैं लंबे समय से इंतजार कर रही थी और आज वह दिन आ गया है। यह बेहद शानदार अनुभव है। अब मैं तीसरे स्टेज की ट्रेनिंग पूरी करने के लिए काम करूंगी।’

नेवी से पहले एयरफोर्स में भी महिला पायलट ने फाइटर प्लेन उड़ाना शुरू कर दिया था। इसी साल फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत भारतीय वायुसेना की पहली महिला पायलट बनी थीं, जिन्होंने फाइटर जेट उड़ाने के लिए क्वालिफाई किया था। उन्होंने मिग-21 एयरक्राफ्ट उड़ाकर यह सफलता हासिल की थी। इससे पहले 2016 में भावना कांत, अवनी चतुर्वेदी और मोहाना सिंह को भारतीय वायुसेना में पायलट के तौर पर तैनाती मिली थी।

शुभांगी बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली हैं। उन्होंने मुजफ्फरपुर के ही डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की है। 27 एनओसी कोर्स के तहत उन्होंने एसएसी (पायलट) परीक्षा पास की और नेवी में कमिशन हुईं। शुरुआती ट्रेनिंग के बाद शिवांगी ने जून 2018 में ही नेवी जॉइन की है।