आप यहाँ है :

मुंबईकरों को लावारिस छोड़कर नगरसेवक और परिवार को कोविड 19 की विशेष जांच

मुंबईकरों के घर- घर मे जाकर जांच करने के बजाय मुंबईकरों को लावारिस छोड़नेवालीमुंबई महानगरपालिका अब नगरसेवक और परिवार वालों की विशेष जांच करने का आदेश मुंबई के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकाणी ने जारी किया हैं। आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने सिर्फ नगरसेवक की नहीं बल्कि पूरे मुंबईकरों की जांच करने की मांग की हैं।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और मुख्य सचिव अजोय मेहता को लिखे हुए पत्र में कहा हैं कि अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकाणी ने नगरसेवक और परिवार की स्वब जांच करने का आदेश जारी किया हैं। साथ ही में निजी लॅब द्वारा की जाएगी। अनिल गलगली ने सवाल खड़ा किया हैं कि फिर मुंबईकर, अभियंता, सफाई कर्मचारी, रुग्णालय में सेवा देनेवाले डॉक्टर और नर्स की जांच क्यों नहीं की जा रही हैं?मनपा पर दोहरे मापदंड का आरोप लगाकर अनिल गलगली ने ध्यान आत्कृष्ट किया हैं कि स्वयं मनपा आयुक्त लक्षण नहीं होने पर किसी प्रकार की जांच न करने की हिदायत देने के बावजूद इस तरह का अलग आदेश क्यों जारी किया गया हैं। अनिल गलगली ने इस मामले की जांच करने की मांग की हैं। अगर जांच करनी हैं तो पूरे मुंबईकरों की जांच करे, ऐसा उनका कहना हैं।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top