आप यहाँ है :

कहानी पूरी फिल्मी, मगर असली-कन्याकुमारी घूमने गए परिवार को मिला 30 साल पहले बिछड़ा अमिताभ बच्चन

मदुरै। कन्याकुमारी में फटे-पुराने कपड़ों में अमिताभ बच्चन? हां, शायद यह चौंकाने वाला लगे लेकिन 10 साल पहले खोए अमिताभ बच्चन को कन्याकुमारी में उनका परिवार वापस मिल गया है। यहां बात हो रही है बिहार के एक बुजुर्ग की जिनका नाम अमिताभ बच्चन है। यहां के स्थानीय लोग और टूरिस्ट भी एक बार को चौंक गए जब उन्होंने एक परिवार के बीच लंबे बालों और फटे-पुराने कपड़ों में बैठे शख्स का नाम अमिताभ बच्चन सुना।

बिहार से आया यह परिवार खुशी से रो पड़ा जब उसे 10 साल पहले झारखंड में बिछड़े परिवार के सदस्य वापस मिल गए। अब 64 साल के अमिताभ मूल रूप से गोपालगंज के रहने वाले थे। एक रिश्तेदार देसिंह ने बताया कि अमिताभ को भूलने की बीमारी है और वह तब परिवार से बिछड़ गए थे जब उनका परिवार झारखंड घूमने गया था। परिवार ने उन्हें ढूंढने की कई कोशिशें कीं लेकिन उनका पता नहीं चल सका था।

गुरुवार को यह परिवार बस से कन्याकुमारी आया था और समंदर के पास खाना बना रहा था तभी उनमें से एक ने अमिताभ को देखा। बढ़ी दाढ़ी-बालों और फटे कपड़ों में अपने परिवार के सदस्य को वापस पाकर पूरा परिवार खुशी से रो पड़ा। उन्होंने अमिताभ को नहलाया और नए कपड़े पहनाए, इसके बाद वे शाम को वापस बिहार के लिए रवाना हो गए।

अमिताभ का परिवार कन्याकुमारी अचानक घूमने आया था और उसे जरा भी अंदाजा नहीं था कि ऐसा सरप्राइज उनका इंतजार कर रहा है। घर से 3,000 किलोमीटर दूर अमिताभ को पाकर उनकी आंखें नम हो गईं। परिवार के एक सदस्य ने कहा, ‘इतना वक्त बीत जाने के बाद हमें उम्मीद भी नहीं थी कि वह जिंदा होंगे।’

साभार- टाईम्स ऑफ इंडिया से



सम्बंधित लेख
 

Back to Top