आप यहाँ है :

सशक्त लोकतंत्र के लिए स्वच्छ एवं निष्पक्ष पत्रकारिता जरूरी

भोपाल। जनसम्पर्क एवं ऊर्जा मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि सशक्त लोकतंत्र के लिए स्वच्छ एवं निष्पक्ष पत्रकारिता का होना जरूरी है। इसके लिए पत्रकारों को और अधिक सजग रहना चाहिये। श्री शुक्ल आज यहाँ माधवराव सप्रे स्मृति समाचार-पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान के राष्ट्रीय अलंकरण समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर माधवराव सप्रे राष्ट्रीय पत्रकारिता सम्मान से प्रख्यात पत्रकार श्री राजकिशोर एवं महेश गुप्ता स्मृति सृजन सम्मान से विज्ञान पत्रकार श्री ज्ञानेन्द्र रावत को जनसम्पर्क मंत्री श्री शुक्ल ने सम्मानित किया। कार्यक्रम में सांसद श्री आलोक संजर एवं महापौर श्री आलोक शर्मा भी मौजूद थे।

जनसम्पर्क मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि वैश्विककरण के इस दौर में बाजारवाद का प्रभाव पत्रकारिता पर भी पड़ा है। इसके बावजूद प्रदेश और देश में उच्च कोटि की पत्रकारिता को बढ़ावा देने के लिए अनेक पत्रकार अपना योगदान दे रहे हैं। माधवराव सप्रे समाचार-पत्र संग्रहालय की चर्चा करते हुए श्री शुक्ल ने कहा कि 31 वर्षों में इस संग्रहालय ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है। इस संग्रहालय के जरिये पत्रकारों को अपना ज्ञान बढ़ाने में काफी मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि सप्रे संग्रहालय के विकास के लिए राज्य सरकार की ओर से हरसंभव मदद की जायेगी। सांसद श्री आलोक संजर और महापौर श्री आलोक शर्मा ने भी संबोधित किया। महापौर श्री आलोक शर्मा ने नगर निगम भोपाल की ओर से संग्रहालय को दी जाने वाली एक लाख रुपये की अनुदान राशि को बढ़ाकर दो लाख रुपये किये जाने की घोषणा की।
 
सम्मानित पत्रकार श्री राजकिशोर और पत्रकार श्री ज्ञानेन्द्र रावत ने भी विचार व्यक्त किये। सप्रे संग्रहालय के संस्थापक श्री विजयदत्त श्रीधर ने बताया कि 19 जून 1984 को सप्रे संग्रहालय स्थापित किया गया था। आज इस संग्रहालय का 32वाँ स्थापना दिवस है। संग्रहालय में 25 हजार से अधिक पत्र-पत्रिकाओं को व्यवस्थित तरीके से संरक्षित किया गया है। संग्रहालय से 900 से अधिक विद्यार्थियों ने शोध किये हैं। उन्होंने बताया कि शिक्षा और शोध संदर्भ के क्षेत्र में सप्रे संग्राहालय को उल्लेखनीय योगदान के लिए मध्यप्रदेश सरकार के संस्कृति विभाग ने वेद व्यास राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित करने की घोषणा की है।
 
पत्रकार श्री राजकिशोर को 21 हजार एवं श्री ज्ञानेन्द्र रावत को 11 हजार रुपये, शॉल श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया। सप्रे संग्राहालय संचालक मंडल के अध्यक्ष श्री राकेश पाठक ने कार्यक्रम के अंत में आभार व्यक्त किया।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top