Friday, June 14, 2024
spot_img
Homeदुनिया भर कीआजादी का अमृत महोत्सव पर विरासत देखी छात्र-छात्राओं ने

आजादी का अमृत महोत्सव पर विरासत देखी छात्र-छात्राओं ने

कोटा। आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत बूंदी के राजकीय महाविद्यालय के स्नातकोत्तर इतिहास विभाग के विद्यार्थियों को आमंत्रित कर जिले में संरक्षित स्मारक चौरासी खम्भों की छतरी, रानी जी की बावड़ी तथा सुखमहल व सुखमहल में स्थित राजकीय संग्रहालय का भ्रमण कराया गया।

पुरातत्वविद ओमप्रकाष कुक्की द्वारा स्मारकों की स्थापत्य कला संबंधी जानकारी प्रदान करते हुए गाईडिंग की गयी। स्मारकों के अवलोकन के उपरान्त सुखमहल परिसर में स्वतंत्रता आन्दोलन से संबंधित प्रष्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मौजूद पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग कोटा वृŸा के अधीक्षक उमराव सिंह ने बूंदी जिले की पुरासम्पदा के सम्बन्ध में व्याख्यान दिया। स्वतंत्रता आन्दोलन से सम्बन्धित विद्यार्थियों से प्रष्न पूछे गए। प्रतियोगिता में ओमप्रकाष बैरागी प्रथम, अभिनव द्वितीय तथा पूजा प्रजापत तृतीय स्थान पर रही। इनको स्मृति चिन्ह देकर पुरूस्कृत, सम्मानित किया गया। विभागाध्यक्ष इतिहास की सविता चौधरी के मार्गदर्षन में विद्यार्थियों ने उक्त स्थलों का भ्रमण किया।
इस अवसर पर धर्मवीर मीना, सुनीता राठौर, राजेन्द्र मीना, मुकेष मीना, रामदेव मीना, दिलषाद षेरवानी, हेमलता टांक, वन्दना शर्मा एवं भानु प्रोफेसरगण भी साथ में मौजूद थे।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार