ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

कैमरे में कैद हुई तरुण तेजपाल की बेशर्मी!

महिला पत्रकार के यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसे तहलका के संपादक तरुण तेजपाल की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। दरअसल गोवा पुलिस को होटेल से मिली सीसीटीवी फुटेज ने पीड़िता के बयान में बताए गए तथ्यों की पुष्टि की है।

फुटेज की जांच कर रही टीम में शामिल एक वरिष्ठ अधिकारी ने अपना नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि जिस लिफ्ट में कथित रूप से यौन उत्पीड़न की घटना हुई थी, उसके बाहर की सीसीटीवी फुटेज विक्टिम के बयान की पुष्टि करती है। इस फुटेज से तेजपाल की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। पीड़िता ने बुधवार को मैजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दर्ज कराया था।

'होटेल के ब्लॉक-7 की लिफ्ट के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की सात नवंबर की फुटेज में यह साफ है कि लिफ्ट में कुछ गलत हुआ था।' उन्होंने कहा, 'फुटेज में शुरुआत में दिखाई देता है कि तेजपाल और पीड़िता हॉलिवुड ऐक्टर रॉबर्ट डीनीरो को उनके कमरे तक छोड़ते हैं। तेजपाल रात लगभग नौ बजे लिफ्ट में युवा पत्रकार के साथ प्रवेश करते दिखाई देते हैं और इस दौरान उनके हाथ महिला के कंधों पर हैं।'

'डेढ़ घंटे बाद रात करीब साढ़े 10 बजे तेजपाल ग्राउंड फ्लोर पर उसी लिफ्ट के पास महिला को अंदर खींचते दिखाई दे रहे हैं।' अधिकारी ने बताया कि फुटेज में लिफ्ट लगभग दो मिनट बाद दूसरी मंजिल पर खुलती दिखाई देती है। उन्होंने कहा, 'महिला अपने कपड़े ठीक करते हुए लिफ्ट से बाहर आती और सीढ़ियं से नीचे उतरती नज़र आ रही है तथा तेजपाल उसका पीछा करते दिखाई देते हैं।'

महिला पत्रकार ने तेजपाल पर आरोप लगाया है कि उसने तहलका द्वारा आयोजित 'थिंक फेस्ट' के दौरान सात और आठ नवंबर को उसका उत्पीड़न किया था। पत्रकार ने तहलका की मैनेजिंग एडिटर (जिन्होंने गुरुवार को पद से इस्तीफा दे दिया) शोमा चौधरी को पिछले सोमवार को इस संबंध में ई-मेल भेजकर शिकायत की थी। इस मामले का संज्ञान लेते हुए गोवा पुलिस ने तेजपाल के खिलाफ बलात्कार और शील भंग करने का मामला दर्ज किया है। हालांकि तेजपाल ने शुरुआत में इस घटना के लिए महिला से माफी मांगी थी, लेकिन बाद में उन्होंने कहा कि यह, 'शराब के नशे में किया गया हंसी मजाक' था और सबकुछ 'सहमति' से हुआ था। पत्रकार ने तेजपाल के दावों का खंडन किया है।

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top