ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

रेल की पटरियों पर चलता है ये ट्रेक्टर

महू-इंदौर ब्रॉडगैज कन्वर्जन के चलते ट्रैक को मजबूती देने तथा सेट करने के लिए गिट्‌टी डालने का सिलसिला चालू हो गया है। इसके चलते एक जुगाड़ वाहन (रेलवे की भाषा) को उपयोग में लिया जा रहा है जो दिनभर इस पर दौड़कर पटरियों के आसपास गिट्‌टी डालने लगा है।
महू-इंदौर के बीच 21 किमी के ब्रॉडगैज ट्रैक डालने का काम पूरा होते ही इस पर ट्रैक्टर में कोच के पहिये लगाकर एक जुगाड़ वाहन बनाया गया है। यह जुगाड़ वाहन एक बड़ी ट्रॉली लगाकर उसमें निर्धारित मापदंड की गिट्‌टी भरे इस नए ट्रैक पर दौड़ने (10 से 15 फेरे) लगा है। वर्तमान में राऊ से महू तक आठ किमी लंबे नवीन ट्रैक के दोनों ओर गिट्‌टी डालकर पटरियों को सेट करने की मशक्कत शुरू हो गई है। स्लीपरों के दोनों ओर पटरियों के बाहर गिट्‌टी के ढेर निर्धारित दूरी पर लगाकर उसे दोनों ओर सेट करने का काम चलने लगा है।

रेलवे तकनीकी विभाग के सूत्रों के मुताबिक आगामी पखवाड़े के दौरान गिट्‌टी सेटिंग का काम पूरा होते ही इंदौर से महू तक डले ब्रॉडगैज ट्रैक पर मटेरियल ट्रेन भी चालू कर दी जाएगी। इसके माध्यम से यहां चल रहे प्लेटफार्म व पैदल पुल सहित स्टेशन मास्टर के दो मंजिला नए भवन के निर्माण में लगने वाली सामग्री पहुंचाने के साथ ही ट्रैक की टेस्टिंग का काम भी शुरू कर दिया जाएगा। हालांकि अभी किशनगंज पुल पर गर्डर सेटिंग का काम जारी है। इसके दोनों ओर के ट्रैक पर गिट्‌टी डाली जा रही है।

साभारृ दैनिक भास्कर से 

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top