आप यहाँ है :

ये करोड़पति हैं, मगर भीख माँगते हैं

राम मंदिर के लिए जब समर्पण निधि अभियान चल रहा था तो ऐसी खबरें भी आई कि कई भिखारियों ने भी मंदिर के लिए दिल खोलकर दान दिया। भिखारियों द्वारा दिए गए इस दान को लेकर लोगों को हैरानी भी हुई। लेकिन शायद आपको पता नहीं कि देश में कई ऐसे भिखारी हैं जिनके पास करोडो़ं की संपत्ति है मगर अपनी भीख मांगने की आदत नहीं छोड़ना चाहते।

जानिये, देश के पांच सबसे अमीर भिखारियों के बारे में जिनके पास करोड़ों की संपत्ति, बंगला, लग्जरी गाड़ियां और अच्छा खासा बैंक बैलेंस है। उनके बच्चे बड़े-बड़े कॉन्वेंट स्कूलों में पढ़ते हैं, उनके पास अपना खुद का बड़ा बिजनेस भी है, दुकानें हैं, इसके बावजूद वे सड़कों पर भीख मांगते नजर आते हैं आप भी जानिए भारत के खास और पांच करोड़पति भिखारियों के बारे में…

75 हजार प्रतिमाह कमाने वाले भरत जैन
एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश में सबसे अमीर भिखारियों की सूची में जो सबसे पहला नाम है, वो भरत जैन का है। भरत जैन ज्यादातर मुंबई के परेल क्षेत्र में भीख मांगते हैं। रिपोर्ट के अनुसार उनके पास अपार्टमेंट में दो फ्लैट हैं, जिनकी कीमत 70 लाख रुपये प्रति फ्लैट है। एक करोड़ 40 लाख से अधिक के तो उनके पास फ्लैट ही है। वह प्रति माह लगभग 75,000 रुपये भीख मांगकर कमाते हैं, जो भारत में औसतन एक नौकरीपेशा की कमाई से कई गुना ज्यादा है।

अमीर भिखारिन, जो 16 साल की उम्र से मांग रही है भीख
रिपोर्ट में सबसे अमीर भिखारियों की सूची में दूसरा नाम कोलकाता की लक्ष्मी का है। लक्ष्मी ने 1964 से कोलकाता में सिर्फ 16 साल की उम्र से भीख मांगना शुरू कर दिया और 50 से अधिक वर्षों के अपने जीवन में इन्होंने भीख मांग-मांग कर लाखों रुपये जुटा लिए हैं। भीख मांगकर जमा की गई धनराशि बैंकों में जमा हैं। लक्ष्मी आज भी एक हजार रुपये हर दिन भीख मांगकर कमाती है। अगर महीने के हिसाब से देखा जाए, तो वे हर महीने कम से कम 30 हजार रुपये कमाती है।

मुंबई में अपने फ्लैट में रहती है ये भिखारिन
देश के सबसे अमीर भिखारियों की सूची में तीसरे नंबर पर मुंबई की रहने वाली गीता हैं। गीता मुंबई के चर्नी रोड के पास भीख मांगती है। बताया गया है कि गीता ने भीख मांगकर जमा किए गए पैसों से मुंबई में एक फ्लैट खरीद लिया है, जिसमें वे अपने भाई के साथ रहती हैं। गीता प्रतिदिन भीख मांगकर 1,500 रुपये से अधिक कमाती है। इस तरह वे प्रतिमाह 45 हजार से अधिक कमाती हैं।

पुलिस ने खोजी इतनी संपत्ति
रिपोर्ट के मुताबिक, कथित तौर पर भीख मांग कर अपना गुजारा करने वाले बुरजू चंद्र आजाद के पास गोवंडी में घर, 8.77 लाख रुपये खाते में जमा और लगभग 1.5 लाख रुपये नकद हैं। वर्ष 2019 में रेल दुर्घटना में अपनी जान गंवाने के बाद उनकी सारी संपत्ति मुंबई पुलिस ने ढूंढ कर निकाली थी।

पटना में रेलवे स्टेशन के करोड़पति भिखारी
बिहार के पटना में रेल प्लेटफॉर्म पर भीख मांगने वाले पप्पू भी अमीर भिखारियों की सूची में पांचवें नंबर पर आते हैं। एक दुर्घटना में पैर फ्रैक्चर हो जाने के बाद पप्पू ने पटना के रेलवे स्टेशनों पर भीख मांगने का काम शुरू किया था। कुछ रिपोर्टों के अनुसार, पप्पू कुमार के पास लगभग 1.25 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

फिर भी लोगों से यह कह कर भीख मांगते हैं कि कई दिनों से कुछ भी खाया पिया नहीं हैं, कुछ खाने के लिए रुपए दे दो। अक्सर लोग इनकी हालत देखकर और तरस खाकर भीख दे ही देते हैं। पप्पू कुमार अपने लड़के को इंग्लिश मीडियम स्कूल से पढ़ा रहे हैं, है ना मजेदार पप्पू कुमार की कहानी।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top