आप यहाँ है :

तीन तलाक के मुद्दे पर संघ के साथ आई 10 लाख मुस्लिम महिलाएं

तीन तलाक के मुद्दे पर संघ से जुड़े एक संगठन की पिटीशन पर दस लाख से ज्यादा मुस्लिम महिलाएं साइन कर चुकी हैं। यह काम आगे भी जारी है। मिली जानकारी के मुताबिक, यह पिटीशन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा साइन करवाई जा रही है। इसपर देश भर के दस लाख से ज्यादा मुसलमान साइन कर चुके हैं। उनमें से ज्यादातर महिलाएं हैं। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा जो पिटीशन साइन करवाई जा रही है उसमें कहा जा रहा है कि इसको धर्म से जोड़कर ना देखा जाए क्योंकि यह एक सामाजिक समस्या है।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय समन्वयक मोहम्मद अफजल ने कहा, ‘बीजेपी की यूपी में हुई बड़ी जीत, देवबंद जैसे मुस्लिम बहुल इलाके में उनका जीत जाना यह दिखाता है कि मुस्लिम महिलओं की आवाज उनके साथ है। इससे साफ होता है कि मुस्लिम महिला बीजेपी के ट्रिपल तलाक पर लिए गए फैसले के साथ है।’

मौलाना अबुल कलाम आजाद के परपोते फिरोज अहमद ने भी मोदी सरकार के इस कदम की प्रशंसा की थी। उन्होंने इसको मुसलमानों के प्रति नरेंद्र मोदी का सकारात्मक रवैया बताया था। बता दें कि केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक-बहुविवाह जैसे प्रथाओं के प्रति अपना विरोध जता चुकी है।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने भारी जीत हासिल की है। उसे अपने दम पर 312 सीट मिली हैं। बीजेपी ने ऐसे इलाकों में भी जीत दर्ज की है जहां पर मुस्लिम जनसंख्या ज्यादा है। इसपर बीजेपी नेता लगातार इस बात को कहते रहे हैं कि सरकार ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर अपना जो पक्ष रखा उसकी वजह से अधिकतर मुस्लिम महिलाएं बीजेपी के साथ आ गईं।

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top