आप यहाँ है :

बेटी को गुजराती सिखाने के लिए छोड़ दी थी अमरीका की नौकरी

दुनिया के सबसे बड़े इन्वेस्टमेंट बैंकों में से एक की नौकरी छोड़ना कोई आसान काम नहीं है। गौरव पंडित और उनकी पत्नी शीतल ने न्यू यॉर्क के बैंक की नौकरी छोड़ दी लेकिन उन्होंने ऐसा क्यों किया, यह कारण और भी चौंकाने वाला है।

दंपती ने इतनी हाई पैकेज वाली सैलरी इसलिए छोड़ दी क्योंकि वे चाहते थे कि उनकी 18 महीने की बेटी भावनगर में रहे और अपनी मातृभाषा गुजराती बोलना सीखे।

21 फरवरी को इंटरनैशनल मातृ दिवस के मौके पर दंपती गर्व और खुश हैं क्योंकि उनकी बेटी ताशी साढ़े 3 साल की हो चुकी है और मीठी कठियावाड़ा लहजे में धाराप्रवाह गुजराती बोलती है।

अमेरिका में 15 साल तक काम करने के बाद ये जोड़ा 2015 में भावनगर आ गया। वे यहां तब तक रहे जब तक कि ताशी अच्छी तरह गुजराती बोलना नहीं सीख गई।

रोचक बात तो यह है कि भावनगर आने के बाद इन 18 महीनों में जोड़े ने कोई काम नहीं किया। कुछ समय पहले वे फिर से यूएस चले गए। अब गौरव गूगल, सिलिकॉन वैली में काम करते हैं और उनकी पत्नी एक इंटरनैशनल कंसल्टेंसी फर्म में काम करती हैं। ताशी ने अब जूनियर केजी में ऐडमिशन ले लिया है और वह अब चाइनीज सीख रही है।

साभार- टाईम्स ऑप इंडिया से



सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top