ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

विजय जोशी मुंशी प्रेम चंद कथाकार सम्मान और श्यामा शर्मा सुभद्रा कुमारी चौहान बाल साहित्य सम्मान

कोटा । युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच, दिल्ली के द्वारा नवें अखिल भारतीय साहित्य महोत्सव, सम्मान समारोह, गीतांजलि हाल, दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी, दिल्ली में आयोजित किया गया।

समारोह में कोटा की वरिष्ठ साहित्कार श्रीमती श्यामा शर्मा को उनके बाल काव्य – संग्रह -” कोई गीत सुनाओ ना ” के लिए “सुभद्रा कुमारी चौहान बाल साहित्य सम्मान -2022 ” तथा कथाकार-समीक्षक विजय जोशी को उनके कथा-संग्रह -” सुलगता मौन ” के लिए “मुंशी प्रेम चंद कथाकार सम्मान -2022” से शाल, मैडल और इक्कीस सौ रुपए नकद राशि तथा सम्मान-पत्र देकर सम्मानित किया गया।

वरिष्ठ साहित्यकार जितेंद्र निर्मोही ने यह जानकारी देते हुए बताया कि समारोह की अध्यक्षता लखनऊ के प्रो विश्वंभर शुक्ल, ने की तथा मुख्य अतिथि नयी दिल्ली के डॉ. बी.एल. गौड़, प्रमुख अतिथि हापुड़ के डॉ. अशोक मैत्रेय, विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द कुमार सिंह , अमेरिका से पधारी डॉ. अनीता कपूर , तथा डॉ. विनोद प्रकाश गुप्ता थे। प्रो रमेश सिद्धार्थ ,श्री अनूप श्रीवास्तव के सान्निध्य में संचालन डॉ. पुष्पा जोशी और डॉ. पवन विजय ने किया।

युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच, दिल्ली के अध्यक्ष रामकिशोर उपाध्याय ने बताया कि प्रथम सत्र में 11 पुस्तकों का विमोचन हुआ और काव्य-सत्र में कोटा के विजय जोशी ने अपने सुप्रसिद्ध गीत रे बन्धु…और श्यामा शर्मा ने नारी कविता सहित दो दर्जन से अधिक कवियों ने अपनी-अपनी रचनाओं से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। काव्य-सत्र का संचालन शशि पाण्डे ने किया।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Get in Touch

Back to Top