आप यहाँ है :

मसूरी के तलहटी से लगे गांवों को डिवाइन विलेज सर्किट के रूप में विकसित किया जाएगा

संस्कार परिवार देहरादून द्वारा, पर्यटन विभाग और स्थानीय लोगों के सहयोग से मसूरी की तलहटी से लगे गांवों को डिवाइन विलेज सर्किट के रूप में विकसित किया जाएगा। संस्कार परिवार देहरादून के संस्थापक आध्यात्मिक गुरु आचार्य विपिन जोशी के पावन सानिध्य में आज जन सुविधा केंद्र भगवंतपुर देहरादून में स्थानीय लोगों और पर्यटन विभाग के प्रतिनिधियों के बीच एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई जिसने योजना का खाका बनाया गया।

आचार्य विपिन जोशी ने बताया संस्कार परिवार देहरादून द्वारा स्वरोजगार और रिवर्स पलायन के लिए एक अभियान चलाया गया है, उत्तराखंड के गांवो को योग और आयुर्वेद ग्राम के रूप में विकसित कर इसे वैलनेस का एक बड़ा हब बनाना उद्देश्य है। उत्तराखंड सरकार की होमस्टे योजना के साथ जुड़कर, जैविक खेती, पशुपालन, जड़ी-बूटी उत्पादन, मधुमक्खी पालन, आदि के साथ-साथ अध्यात्म, योग, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा आदि के माध्यम से देवभूमि दिव्य ग्रामों को विकसित किया जाएगा।

पर्यटन विभाग के प्रतिनिधि सुभाष थपलियाल और मनीष नेगी ने सरकार की होमस्टे योजना के बारे में विस्तार से बताया। समाजसेवी गोदावरी थापली और कार्यक्रम के संयोजक पंडित रितेश जोशी ने योजना के क्रियान्वयन के लिए अपने महत्वपूर्ण विचार व्यक्त किए।

इस अवसर पर सुरजन सिंह, महेश जोशी, राधेश्याम जुयाल, मोनू डंगवाल, रोहित ठाकुर, बलबीर सिंह, रंजन कुमार, पंकज जोशी आदि लोग उपस्थित रहे

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top