ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

घर बैठे देखिये अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह २९ मई से यू ट्यूब पर

इस वर्ष कोरोना के कारण दुनिया के सभी बड़े फ़िल्म फेस्टिवल निरस्त हो गए हैं, किंतु शो मस्ट गो ऑन की तर्ज़ पर इन सभी फ़िल्म फेस्टिवल के आयोजकों ने मिलकर एक ऑनलाइन फ़िल्म फेस्टिवल करने का निश्चय किया है जो 29 मई से 7 जून तक यू ट्यूब पर होगा।

कृपया इसे देखने का दुर्लभ मौका ना छोड़ें। इसमें कान फिल्म फेस्टिवल, कार्लो वी वारी फ़िल्म फेस्टिवल, वेनिस फिल्म फेस्टिवल, बर्लिन फ़िल्म फेस्टिवल, टोरंटो फ़िल्म फेस्टिवल जैसे विश्व के सबसे बड़े और प्रतिष्ठित फ़िल्म फेस्टिवल्स के अलावा मुम्बई का मामी फ़िल्म फेस्टिवल भी शामिल है।

इन दस दिनों में आपको दुनिया भर की सर्वश्रेष्ठ फीचर, शॉर्ट तथा डॉक्यूमेंट्री फिल्म्स देखने को मिलेगी। इसके अलावा विश्व के बेहतरीन फिल्मकारों की मास्टर क्लासेज, वर्कशॉप्स, इंटरव्यू आदि भी शामिल हैं।

मामी फ़िल्म फेस्टिवल ने इसमें भारत की चार फिल्में भेजी हैं जिसमें अरुण कार्तिक की “नासिर”, प्रतीक वत्स की “ईब आले ऊ” फीचर फिल्में हैं और अतुल मोंगिया की “अवेक” तथा शान व्यास की “नटखट” शॉर्ट फिल्में हैं। इसमें *ईब आले ऊ* भारत की बेहतरीन एंट्री मानी गई है जिसने मामी फेस्टिवल 2019 तथा बर्लिन फेस्टिवल 2020 में धूम मचा दी थी। इसे गोल्डन गेटवे अवॉर्ड और यंग क्रिटिक अवॉर्ड पहले ही मिल चुका है।

दस दिन के इस ऑनलाइन फ़िल्म फेस्टिवल में दुनिया भर के *इक्कीस इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल्स से पैंतीस देशों की 100 फिल्में शामिल हैं*। इनमें कुछ फिल्में अपने तयशुदा वक्त पर ही देखी जा सकेंगी, लेकिन कुछ फिल्में पूरे फेस्टिवल के दौरान ऑनलाइन मौजूद रहेंगी।

जिन फिल्मों को देखने के लिए घंटों लाइन में खड़ा होना पड़ता है, हज़ारों रुपये के टिकट लेना होते हैं, उन्हें आप अपने घर में सोफे या बिस्तर पर बैठ कर आराम से देख सकते हैं और वो भी मुफ्त में !!!

ऐसे दुर्लभ मौके को हाथ से मत जाने दीजिए

लॉक डाउन का इससे बेहतर उपयोग क्या होगा ??

राकेश मित्तल
महासचिव
भारतीय चित्र साधना
इन्दौर

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top