ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

पश्चिम रेलवे पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये ‘राष्ट्रीय रेल विकास शिविर’ का सीधा प्रसारण

मुंबई में चर्चगेट स्थित पश्चिम रेलवे के प्रधान कार्यालय के सम्मेलन कक्ष में रविवार, 20 नवम्बर, 2016 को सूरज कुंड में तीन दिनों तक चले ‘राष्ट्रीय रेल विकास शिविर’ के समापन सत्र का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये सीधा प्रसारण आयोजित किया गया, जिसके माध्यम से पश्चिम रेलवे के अपर महाप्रबंधक श्री एस. के. पाठक ने अन्य प्रमुख विभागाध्यक्षों तथा वरिष्ठ रेल अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ रेल विकास शिविर के समापन सत्र की कार्यवाही का अवलोकन किया। 3 दिनों तक चले इस रेल विकास शिविर का आयोजन नई दिल्ली के निकट सूरज कुंड में किया गया था, जिसके अंतर्गत भारतीय रेल प्रणाली को और बेहतर बनाने के लिए नये विचारों पर मंथन किया गया।

रेल विकास शिविर में सभी क्षेत्रीय रेलों एवं उत्पादन इकाइयों के चुनिंदा अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया। शिविर के समापन सत्र में क्षेत्रीय रेलों के महाप्रबंधकों ने विभिन्न तकनीकी प्रजेंटेशन साझा किये। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री जी. सी. अग्रवाल ने ‘रेल यात्रा को अधिक सुखद कैसे बनायें ?’ विषय पर अपना प्रजेंटेशन प्रस्तुत किया। समापन सत्र को भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं भारत सरकार के माननीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने भी सम्बोधित किया। अपने सम्बोधन में माननीय प्रधानमंत्री ने भारतीय रेलवे की कार्य संस्कृति में चार मूल मंत्रों ‘इनोवेट, रिनोवेट, मोटिवेट एवं कल्टीवेट’ को अपनाने पर बल दिया।

फोटो – पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री जी. सी. अग्रवाल सूरज कुंड में आयोजित ‘राष्ट्रीय रेल विकास शिविर’ में ‘रेल यात्रा को अधिक सुखद कैसे बनायें?’ विषय पर अपना व्याख्यान प्रस्तुत करते हुए तथा चर्चगेट स्थित प्रधान कार्यालय में पश्चिम रेलवे के अपर महाप्रबंधक श्री एस. के. पाठक एवं अन्य प्रधान विभागाध्यक्ष शिविर के समापन समारोह का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये सीधा प्रसारण देखते हुए। उनके पीछे वीडियो परदे पर माननीय प्रधानमंत्री एवं रेल मंत्री भी दिखाई दे रहे हैं।

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top