आप यहाँ है :

रेल मंत्रालय में हिन्दी में काम क्यों नहीं होता

महोदय,

जो विषय में आपके सामने उठा रहा हूँ उसके लिए मैं पिछले सात वर्षों से निरंतर रेल मंत्रालय को लिख रहा हूँ जबकि मेरा विषय देश उन करोड़ों लोगों से जुड़ा है जो अंग्रेजी नहीं समझते हैं इसलिए आप से एक आम नागरिक के नाते प्रार्थना कर रहा हूँ आशा है आप निराश नहीं करेंगे.

1. आईआरसीटीसी को care@irctc.co.in पर लिखे गए हिंदी ईमेल का जवाब हिंदी में मांगने पर भी सिर्फ अंग्रेजी में दिया जाता है, कृपया रेल मंत्रालय एवं आईआरसीटीसी ग्राहक सेवा केन्द्र के कर्मियों/अधिकारियों को देवनागरी-हिंदी में लिखने का प्रशिक्षण दिलवाएं ताकि वे आम जनता को हिंदी में जवाब लिख सकें .
2. आईआरसीटीसी पर टिकट आरक्षित करने पर ईमेल पर टिकट विवरण केवल अंग्रेजी में प्राप्त होता है कृपया इन ईमेल को राजभाषा हिंदी एवं यात्रियों की सुविधा के लिए भारतीय भाषाओं में उपलब्ध करवाने की कृपा करें .
4. आईआरसीटीसी पर टिकट आरक्षित करने के साथ ही बीमा लेने पर बीमा पालिसी का ईमेल, बीमा पालिसी का दस्तावेज और मोबाइल संदेश केवल अंग्रेजी में प्राप्त होते हैं कृपया बीमा पालिसी, बीमा पालिसी का मोबाइल सन्देश को राजभाषा हिंदी एवं यात्रियों की सुविधा के लिए भारतीय भाषाओं में उपलब्ध करवाने की कृपा करें.
5. आईआरसीटीसी की ई-टिकट वेबसाइट को छोड़कर अन्य सभी ऑनलाइन सेवाएँ एवं मोबाइल एप सिर्फ अंग्रेजी में हैं और इन में राजभाषा हिंदी में विकल्प उपलब्ध नहीं हैं, जो सेवाएँ एवं मोबाइल एप सिर्फ अंग्रेजी में हैं उनमें राजभाषा एवं अन्य भारतीय भाषाओं का विकल्प न जोड़ने से करोड़ों यात्री इनका प्रयोग करने में असमर्थ हैं. मेकमाईट्रिप ट्रेन्स एप पाँच भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है जबकि रेलवे का ई-टिकट आरक्षण एप सिर्फ अंग्रेजी में है.
6. हमारे कुछ मित्र विदेश में 10-12 वर्षों से सॉफ्टवेयर कम्पनियों में कार्यरत हैं, उनका कहना ऑनलाइन सेवाओं में दुनिया की हर भाषा का विकल्प उपलब्ध करवाया जा सकता है, इसके लिए तकनीक उपलब्ध है, वे रेलवे के लिए यह काम निशुल्क करने को तैयार हैं। यदि रेल मंत्रालय अथवा क्रिस के अधिकारी इन सेवाओं को भारतीय भाषाओं में उपलब्ध करवाने में आ रही तकनीकी समस्या बता दें तो वे उसका समाधान करने में सहयोग करेंगे जिससे इन वेबपेजों/ वेबसाइटों को डिगलॉट (द्विभाषी) बनाने एवं अन्य भारतीय भाषाओं का विकल्प उपलब्ध करवाने का जल्दी से हो सकेगा और महोदय आपने जो नई सेवाएँ प्रारंभ करवाई हैं वे भी राजभाषा/भारतीय भाषाओ में उपलब्ध करवा दीजिए :
क) http://www.rr.irctctourism.com/cgi-bin/rr.dll/irctc/services/rrhome.do
ख) http://www.irctctourism.com/cgi-bin/dev1.dll/irctc/booking/tourPackages.jsp
ग) http://www.air.irctc.co.in/IndianRailways/
घ) http://www.ecatering.irctc.co.in/eCatering/

आप समय दें तो आवेदक 10 मिनट के लिए आपके समक्ष उपस्थित होकर विषय पर पूरी जानकारी देने को तैयार है. आपके उत्तर की प्रतीक्षा में

भवदीय,
प्रवीण कुमार जैन (एमकॉम, एफसीएस, एलएलबी),
कम्पनी सचिव, वाशी, नवी मुम्बई – ४००७०३.

Regards,
Praveen Kumar Jain (M.Com, FCS, LLB),
Company Secretary, Vashi, Navi Mumbai – 400703.

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top