आप यहाँ है :

मीडिया की कृपा से देशद्रोही ‘हीरो’ हो गए और राष्ट्र प्रेमी ‘गुंडे’

पटियाला हाउस कोर्ट में स्टूडेंट लीडर कन्हैया और मीडिया के लोगों से मारपीट के आरोपी वकील विक्रम सिंह चौहान ने कहा है कि देश विरोधी नारेबाजी करने वालों को हम एक बार नहीं, दस बार पीटेंगे। वकीलों का आरोप है कि मीडिया ने मामले को सही ढंग से नहीं दिखाया। इस विरोध में चौहान समेत सैकड़ों वकीलों ने मार्च भी निकाला।

वकील चौहान का दावा है कि उसने पत्रकार को को इसलिए मारा, क्योंकि वह राष्ट्रीयता के मुद्दे पर उकसाने वाली बातें कह रहा था। चौहान के सभी साथी वकील भी चौहान के ऐसा करने को सही मानते हैं। मंगलवार को शकरपुर इलाके में चौहान का सम्मान किया गया था। पुलिस के मुताबिक चौहान, ओम प्रकाश और यशपाल सिंह को पूछताछ के लिए तीसरी बार नोटिस भेजा जा चुका है। उनका कहना है कि अगर ये तीनों हाजिर नहीं होते तो उन्हें गिरफ्तार ही करना पड़ेगा।

गौरतलब है कि 16 फरवरी को चौहान ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि उन्हें गुंडा बना दिया गया और जो असल में देश के दुश्मन हैं उन्हे हीरो बना दिया गया है। चौहान की फेसबुक पोस्ट-

“मुझे देश का सबसे बड़ा गुंडा बना दिया गया। वहीं, जो भारत माँ के खिलाफ हैं, वो हीरो बन गए। अगर लेफ्टिस्ट गुंडों का विरोध करते हुए भारत माँ जिंदाबाद कहना गुंडागर्दी है तो मैं गुंडा हूं। मैं परवाह नहीं करता कि कौन क्या कह रहा है। हम कल फिर मिल रहे हैं उनकी साजिश का खुलासा करने के लिए।”

“एंटी नेशनल एक्टिविटीज में शामिल लोगों को सबक सिखाने वाले वकीलों को जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है। मीडिया का एक ग्रुप देश विरोधी लोगों के हाथों बिक चुका है। हम दिखाना चाहते हैं कि देश भर के वकील कैसे उन्हें पाठ पढ़ाते हैं।”

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top