Thursday, July 25, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिसदर पुलिस थाने को मिला ‘बाल मित्र कक्ष

सदर पुलिस थाने को मिला ‘बाल मित्र कक्ष

डूंगरपुर। जिले के सदर पुलिस थाने को अपना पहला ‘बाल मित्र कक्ष’ मिल गया है। अब किसी मामले में संबंधित होने के चलते पुलिस थाने आने वाले बच्‍चों को भयमुक्‍त वातावरण व उनके अनुकूल माहौल मिल सकेगा। कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन, बजाज फाउंडेशन व सृष्टी सेवा समिति डूंगरपुर के संयुक्‍त तत्‍वावधान में मंगलवार को इस कक्ष का उद्घाटन समारोह किया गया। इसका शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हेमेन्द्र नागर, अतिरिक्त जिला कलक्टर, डूंगरपुर व विशिष्ट अतिथि कुलदीप सूत्रकार, सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, डूंगरपुर द्वारा फीता काटकर किया गया|

बाल मित्र कक्ष की जरूरत इसलिए है क्‍योंकि किसी अपराध का शिकार होने वाले बच्‍चों को पारिवारिक माहौल मिल सके और वे खुलकर अपनी बात कह सके। इससे सुबूत जुटाने और दोषी को सजा दिलवाने में आसानी होती है। इस पहल से दुष्‍कर्म पीड़ित किशोरियों को खासी मदद मिलेगी क्योंकि वह एक सुलभ वातावरण में अपनी बात खुल कर रख पाएंगी। साथ ही वे बच्‍चे जो किसी तरह के अपराध में लिप्‍त हैं, उन्‍हें भी पारिवारिक माहौल देते हुए सुधार की राह पर लाया जा सकेगा।

मुख्य अतिथि नागर ने यहां उपस्थित बच्‍चों से कहा कि अभिभावक व शिक्षकगण पतंग की डोर की तरह हैं, इसलिए उनके डांटने पर बुरा नहीं मानना चाहिए। आपको जीवन में बहुत उचाइयों पर जाना है, इसलिए संघर्ष से घबराने की जरुरत नहीं है। विशिष्ट अतिथि सूत्रकार ने कहा कि ‘बाल मित्र कक्ष’ की स्‍थापना का मकसद पुलिस थानों में बच्चों के लिए भयमुक्त वातावरण बनाना है।

राकेश कुमार शर्मा, जिला उप अधीक्षक, डूंगरपुर ने बच्चों से संबंधित कानूनी जानकारी दी और ‘बच्चे मन के सच्चे’ गीत के माध्यम से बच्चों का उत्साहवर्धन किया। उन्‍होंने सृष्‍टी सेवा समिति के कार्यों की प्रंशसा की। बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष भावेश जी जैन ने ‘बाल मित्र कक्ष’ को अच्छी पहल बताया। उन्होंने कहा कि यह नवाचार बाल कल्याण के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा।

चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन के समन्वयक मुकेश गौड़ ने बच्‍चों को बताया कि किसी भी तरह का शोषण होने पर उन्‍हें 1098 पर कॉल करना चाहिए। सृष्‍टी सेवा समिति के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवि सिंह बघेल ने बच्चों हेतु समिति द्वरा संचालित विभिन्न कल्याणकारी परियोजनाओं की जानकारी दी। सदर थानाधिकारी भवानी सिंह एवं सृष्‍टी सेवा समिति के अध्यक्ष श्याम सुन्दर भट्ट ने धन्यवाद ज्ञापित किया |

कार्यक्रम में जिला बाल सरंक्षण इकाई, श्रम विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, रेलवे सुरक्षा बल, वरदान इंटरनेशनल स्कूल व मुस्कान संस्थान से भी अतिथि मौजूद थे। कार्यक्रम संचालन सृष्‍टी सेवा समिति सचिव सोहन जन्नावत द्वारा किया गया। कार्यक्रम का आयोजन समिति के नेमीचंद जैन, संजय जोशी, सुरेन्द्र ढोली, विजय शर्मा, अनीता यादव, उमा कृष्णावत, हेमंतपुरी गोस्वामी, कल्पेश यादव व कार्तिक जोशी द्वारा किया गया।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार