Thursday, April 25, 2024
spot_img

Monthly Archives: January, 2016

पाकिस्तानी अखबार डान का खुलासा, पाकिस्तान में हिन्दुओं को शादी में कानूनी अड़चनें

सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के बावजूद पाकिस्तान के सांसदों में हिंदू विवाह अधिनियम को पारित कराने की इच्छा शक्ति का अभाव है।

मोदीजी इस रैकेट को तोड़िये, देश के करोड़ों युवकों का भला होगा

देश के किसी भी आईआईटी और एम्स में 'कंफर्म ऐडमिशन' वाला विज्ञापन नहीं निकलता है। मगर, मीडिया में एमबीबीएस सीट के विज्ञापनों की भरमार रहती है।

सिर्फ 33 मिनट लेट थी ट्रेन, एक महीने बाद लंदन से भारत भेजा हर्जाना

सीए राकेश मित्तल ने कुछ वक्त पहले फॉरेन टूर के दौरान एडिनबर्ग से लंदन तक यात्रा की थी। उस वक्त ट्रेन तकनीकी कारणों से लेट हो गई थी। बहरहाल, इस भारतीय यात्री के पास अब इंदौर में माफीनामे के साथ हर्जाने के रूप में 33 पाउंड (करीब 3200 रुपए) का चेक आया है।

वृहद भारत के पुनर्निर्माण की आवश्यकता- शेखर दत्त

भारत को साम्राज्यवाद नहीं अपने प्रभाव को बढ़ाने की आवश्यकता है। आज से दो हजार वर्ष पूर्व भारत का प्रभाव क्षेत्र चीन, विएतनाम, कम्बोडिया, थाईलैंड, इंडोनेशिया, अफगानिस्तान तक था और हमारी संस्कृति का पूरा विश्व सम्मान करता था।

पत्रकार गौरव सावंत ने बच्चों के लिए लिखी वीर सैनिकों की गाथाएँ

इंडिया टुडे टीवी के संपादक गौरव सावंत बच्चों के लिए एक नई सचित्र बुक सीरीज ‘वीर गाथा’ लेकर आए हैं।

धार्मिक सद्भाव का केंद्र चंडीगढ़ का रामदरबार

केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ वैसे तो अपनी कई विशेषताओं के लिए पूरे देश में प्रसिद्ध है। उदाहरण के तौर पर इसे देश का सबसे स्वच्छ एवं हरित केंद्र शासित प्रदेश माना गया है। चंडीगढ़ अपनी व्यवस्थित यातायात व्यवस्था तथा सुचारू प्रशासनिक व्यवस्था के लिए भी प्रसिद्ध है।

आतंकियों का फैलता जाल

दुनिया के अब तक के सर्व-कुख्यात आतंकी संगठन आईएसआईएस का अमानवीयता से भरपूर खूनी खेल,उसकी अकथनीय नृशंसता,बर्बरता आदि का विवरण प्रायः हर टीवी चैनल आये दिन दिखाता रहता है।

बुंदेल खंड में महिलाओं ने 100 गाँवों को पानी के मामले में आत्मनिर्भर बनाया

बुंदेलखंड के सूखे पर सियासत के बीच यहां के लोग अब खुद ही मुश्किलों से निपटने के रास्ते खोजने लगे हैं। यहां के सूखाग्रस्त गांवों को पानीदार बनाने की जिम्मेदारी यहां के महिलाओं ने अपने हाथों में ले ली है।

राष्ट्र गान या गुलामी का गीत ( जन गण मन की कहानी)

इस राष्ट्रगान का अर्थ कुछ इस तरह से होता है “भारत के नागरिक, भारत की जनता अपने मन से आपको भारत का भाग्य विधाता समझती है और मानती है।

प्रणव मुखर्जी ने अपनी पुस्तक मेें खोले कई राज

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपनी संस्मरणात्मक पुस्तक ‘द टर्बुलेंट इयर्स :1980-1996’ में ऐसी कई बातों का उल्लेख किया है जो देश की तत्कालीन राजनीति और शीर्ष राजनेताओं के व्यक्तित्व का नया आयाम पेश करती है।
- Advertisment -
Google search engine

Most Read