Monday, April 22, 2024
spot_img

Monthly Archives: March, 2018

चिपको आंदोलन ने एक नया इतिहास बनाया

चिपको आंदोलन की आज 45वीं वर्षगांठ है. इस मौके पर गूगल ने एक खूबसूरत डूडल इसे समर्पित किया है. साथ ही इस आंदोलन के बारे में गूगल ने लिखा है कि यह एक ‘ईको-फेमिनिस्ट’ आंदोलन था जिसका पूरा ताना-बाना महिलाओं ने ही बुना था.

आदिवासियों को शिकार पर जाने से ऐसे रोका इस महिला अधिकारी ने

कोलकाता । वन अधिकारियों के शिकारियों के साथ सांठगांठ की शिकायतें अक्‍सर मिलती रहती हैं लेकिन पश्चिम बंगाल की एक महिला अधिकारी ने जानवरों के शिकार को रोकने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी। राज्‍य के मिदनापुर जिले में अतिरिक्‍त मंडलीय वन अधिकारी पूरबी महतो गुरुवार को 5 हजार आदिवासियों का नेतृत्‍व कर रहे बुजुर्गों के चरणों में गिर गईं और शिकार नहीं करने की अपील की।

श्री नगर के लाल चौक पर रही रामनवमी की धूम

श्रीनगर । कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में रविवार सुबह एक अनोखा नजारा देखने को मिला। अक्सर तनाव के साए में रहने वाले श्रीनगर के लालचौक पर रविवार सुबह स्थानीय लोगों को जय श्री राम और भजनों की आवाज सुनने को मिली। रामनवमी के मौके पर श्रीनगर में निकाली गई एक शोभायात्रा के दौरान लालचौक पर यह खास नजारा देखने को मिला।

जगदीश उपासने का कुलपति बनना यानी…

एक पत्रकार से एक संपादक हो जाना बहुत कठिन नहीं है लेकिन एक संपादक से किसी महनीय विश्वविद्यालय का कुलपति हो जाना मुश्किल सा था। और इस मुश्किल को बड़ी ही सहजता से जिसने पाया उसका नाम है जगदीश उपासने। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल के कुलपति बनाये जाने पर मध्यप्रदेश स्वयं को जितना गौरवांवित महसूस करता है, उतना ही गर्व छत्तीसगढ़ को है। यह होना लाजिमी है क्योंकि 15 बरस पहले छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश का हिस्सा था तब दो राज्यों का कोई भेद नहीं था। इस नाते पत्रकारिता के वरिष्ठ पत्रकार एवं संपादक जगदीश उपासने सबके हैं और सब उनके हैं। जगदीश उपासने का जगदीश उपासने बने रहना सरल क्यों नहीं है, इस पर कुछ विमर्श किया जा सकता है।

खरीदी से लेकर बैंक के खाते का काम ऑनलाईन करने वाले ये जरुर पढ़ें

एक बार मैं अपने अंकल के साथ एक बैंक में गया, क्यूँकि उन्हें कुछ पैसा कही ट्रान्सफ़र करना था।

अमरीकी वीज़ा के लिए सोशल मीडिया की जानकारी भी देना होगी

अमेरिकी वीज़ा के लिए आवेदन करते समय अब आपको अपने सोशल मीडिया अकाउंट से जुड़ी जानकारियां भी देनी होंगी. साथ में मोबाइल नंबर और ई-मेल आदि भी बताना होगा. ख़बरों के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने इस बार वीज़ा आवेदन करने वालों के लिए नियमों में बदलाव किया है. ऐसा इसलिए ताकि ऐसे लोगों को अमेरिका आने से रोका जा सके जो अमेरिकी सुरक्षा के लिए ख़तरा बन सकते हैं. वीज़ा आवेदन नियमों में बदलाव गुरुवार को ही किया गया है. इसकी सूचना आधिकारिक तौर पर शुक्रवार 30 मार्च को सार्वजनिक की जाने वाली है.

पाकिस्तानी हिंदुओं को भारत से भगाया, पाकिस्तान में जबरन मुसलमान बनाया

हैरानी की बात ये है कि जब पाकिस्तान में 500 हिंदुओं का जबरन धर्म परिवर्तन कराया जा रहा था, उससे सिर्फ 5 दिन पहले ही जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में सिंध प्रांत में अल्पसंख्यक हिंदुओं पर हो रहे अत्याचारों और धर्म परिवर्तन पर चिंता जतायी जा रही थी। इस सत्र का संचालन मुस्लिम कनेडियन कांग्रेस के फाउंडर और लेखर तारिक फतह ने किया था। वहीं सत्र में मुख्य वक्ता के तौर पर वर्ल्ड सिंधी कांग्रेस की चेयरपर्सन रुबिना शेख ने बताया कि किस तरह से सिंध में हिंदुओं पर अत्याचार किए जा रहे हैं और उनका जबरन धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।

अण्णा हजारे का अऩशन जारी, महाराष्ट्र के मंत्री आश्वासन देने गए

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल आज चौथे दिन में प्रवेश कर गई और उनके एक सहयोगी का दावा है कि उनका चार किलोग्राम वजन कम हुआ है। वहीं मोदी सरकार की तरफ़ से अण्णा हजारे से मध्यस्थता कर रहे महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने अण्णा हजारे से एक घंटे बातचीत की है। इस आंदोलन में ऐसा पहली बार हुआ है जब सरकार की तरफ़ से कोई अन्ना हजारे से मिलने आया है।

गॉडफादर किसी को लोकप्रिय कलाकार नहीं बना सकता- गोविंद नामदेव

आजमगढ़। मध्य प्रदेश के सागर में जन्मे दिल्ली में खुद को तराशा और फिर मुंबई पहुंचकर फिल्मों की दुनिया में एक अलग पहचान बनाने वाले प्रख्यात बॉलीवुड कलाकार गोविंद नामदेव गुरुवार को शहर के ठंडी सड़क स्थित एक होटल में पत्रकारों से रूबरू हुए।अपने रंगमंच से फिल्मों की यात्रा पर विस्तार से बातचीत की।वही युवा कलाकारों को भी संदेश दिया। बैंडिट क्वीन फिल्म के डायलॉग को उसी अंदाज सुनाया। सूत्रधार संस्थान द्वारा आयोजित 13 वे रंग महोत्सव आरंगम में गोविंद नामदेव भाग लेने आजमगढ़ आए हुए थे।

आचार में अहिंसा,विचार में अनेकांत और जीवन में अपरिग्रह की महिमा

सत्य के सदन में अहिंसा के अवतरण का नाम है तीर्थकर महावीर स्वामी। अचौर्य के आचरण और अपरिग्रह के अनुकरण का नाम है महावीर स्वामी। अनेकान्तवाद के आकाश में उत्सर्ग की उड़ान का नाम है महावीर स्वामी। अवैर की अभिव्यक्ति और क्षमा की शक्ति का नाम है महावीर स्वामी। सहिष्णुता की सात्विकता और संयम के सामर्थ्य का नाम है महावीर स्वामी। सद्भाव से सरोकार और समता के सूत्रधार का नाम है महावीर स्वामी।
- Advertisment -
Google search engine

Most Read