Tuesday, April 16, 2024
spot_img

Monthly Archives: November, 2019

बीजेपी का वैचारिक अधिष्ठान और हर राज्य में सरकार बनाने की जिद

सवाल यह है कि क्या भारत के हर प्रदेश में सरकार स्थापित करना ही बीजेपी रूपी संसदीय विचार का एकमेव लक्ष्य था?1951 में जनसंघ की आवश्यकता के अक्स में सत्ता कभी ध्येय नही थी।

पूर्वोत्तर भारत का महान वीर योद्धा लचित बरफूकन

सरायघाट की इस अभूतपूर्व विजय ने असम के आर्थिक विकास और सांस्कृतिक समृद्धि की आधारशिला रखी।

अली सरदर ज़ाफरी को कितना जानते हैं आप

हम सरदार के बचपन की बात नहीं करेंगे. यहां मौज़ू उनकी जवानी और बुढ़ापा है. एक ख्व़ाब की तामीर है और उसका तिड़कना है.

‘लल्लन मिस’ का मंचन 5 दिसम्बर को

रमा पांडेय रमा थिएटर नाट्यविद्या (रतनाव) और मोंटेटेज फिल्म्स की संस्थापक हैं। जोधपुर में जन्मी रमा पांडेय ने जयपुर आकर एक बाल कलाकार के रूप में अपना करियर शुरू किया।

मुंबई में अंतरराष्ट्रीय रामायण सम्मेलन का आयोजन 28 से 30 नवम्बर तक

इस सम्मेलन का उद्देश्य केवल आध्यात्मिक, पारमार्थिक और भक्तिमय अनुष्ठान ही नहीं बल्कि अध्यात्म की पीठिका पर स्थापित रामराज्य की विविध संकल्पनाओं तथा समाज से सुचिंतित प्रशासन, प्रबंधन,

गुरूत्वाकर्षण को चुनौती देने वाला ये शख़्स कुछ भी कर सकता है

उन्होंने कहा, ''मैंने काफी दिनों तक इस कला को सीखने का प्रयास किया, जिसके बाद अब मैं कुछ ही समय में यह जान लेता हूं कि इस वस्तु का संतुलित आधार क्या है''.

वरिष्ठ पत्रकार अमित आर्या मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के मीडिया सलाहकर बने

वह ‘इंडिया टीवी’ में असाइनमेंट के शिफ्ट इंचार्ज भी रह चुके हैं। ‘इंडिया न्यूज’ की लॉन्चिंग टीम का हिस्सा रहे अमित आर्या वहां असाइनमेंट हेड सहित कई महत्वपूर्ण पदों पर काम कर चुके हैं।

कमलेश कमल राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त

वर्तमान में कमलेश कमल हिन्दी प्रचार हेतु समग्र मध्यप्रदेश प्रान्त अध्यक्ष के रूप में संस्थान के साथ कार्यरत हैं।

ग्रामीण क्षेत्र के पत्रकारों के लिए अवॉर्ड की घोषणा

यह अवार्ड चरखा के संस्थापक संजॉय घोष के जज्बे से प्रेरित है, जिसमें उन्होंने मीडिया के रचनात्मक उपयोग के माध्यम से ग्रामीण हाशिए के समुदायों के सामाजिक और आर्थिक समावेश की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

अब तीन साल तक वाहन की कीमतें नहीं घटा सकेगी बीमा कंपनियां

वहीं अगर दूसरे विकल्प के बारे में बात करें तो इसमें कहा गया है कि शुरुआती 6 महीने तक कार की कीमत उसकी मौजूदा कीमत की 95 फीसदी मानी जाएगी.
- Advertisment -
Google search engine

Most Read