Tuesday, March 5, 2024
spot_img

Monthly Archives: April, 2023

आनंद मोहन से हुई वो मुलाकात…..

आनंद मोहन ने तत्काल प्रतिक्रिया दी...बेटा जेल में मेरे साथ भी ऐसा ही हो रहा था..

प्रो. अच्युत सामंत को श्रीमंत शंकरदेव विश्वविद्यालय ने डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्रदान की

भुवनेश्वर। महान् शिक्षाविद्, सामाजिक कार्यकर्ता, कीट- कीस के संस्थापक तथा कंधमाल लोकसभा सांसद प्रोफेसर अच्युत सामंत को असम के महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया है।

श्रमिकों और किसानों का बढ़ा मान, बोरे बासी को

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के सीधे साधे श्रमिकों और किसानों का मान बढ़ाने के लिए मजदूर दिवस के दिन लोगों से बोरे-बासी खाने की अपील की है।

उत्कल अनुज हिंदी वाचनालय में स्वरचित कविता पाठ आयोजित

वसर पर अर्जुना गोयल, सीमा अग्रवाल, नमिता गलीर और दीप्ति साहू आदि उपस्थित थे।

“कीस घूमकर देखा, बहुत कुछ सीखा”: हेमंत सोरेन,

उन्होंने कहा कि झारखंड में केआईएसएस जैसे संस्थानों की स्थापना से नक्सल समस्या और आदिवासियों की कई समस्याओं का समाधान होगा। "कीस में घूमने के बाद मुझे बहुत कुछ सोचने पर मजबूर कर दिया है।

हर व्यक्ति की अपनी कहानी होती हैः

भारतीय जन संचार संस्थान में 'शुक्रवार संवाद' कार्यक्रम का आयोजन

‘मन की बात’ ने कराया भारत का भारत से परिचय आईआईएमसी के सर्वेक्षण में 76% लोगों की राय

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार 76 फीसदी भारतीय मीडियाकर्मियों की राय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ ने भारत का भारत से परिचय कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

“राष्ट्रबोध कराता है मन की बात”

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के अनुसार- “किसी भी देश समाज की विकास की प्रक्रिया में युवाओं विशेषकर विद्यार्थियों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

कुमारिल भट्‌ट ने आत्मदाह क्यों किया था?

शंकर न तो वेदविरुद्ध थे, न ही विधि-विरुद्ध, किंतु उन्होंने औपनिषदिक प्रविधि इसलिए अपनाई, क्योंकि वे जानते थे कि विधि को चुनौती दी जा सकती है, किंतु स्वरूप का खण्डन नहीं किया जा सकता।

वो काला दिन जब इल्तुतमिश ने महाकाल मंदिर पर हमला कर इसे नष्ट कर दिया था

“उज्जैन के महाकाल मंदिर पर आतंकी हमला हुआ है… मंदिर को पूरी तरह नेस्तनाबूत कर दिया गया है… मंदिर के भीतर सदियों से जमा सोने-चांदी की मूर्तियों को लूट लिया गया है… राजा विक्रमादित्य की मूर्ति भी गिरा दी गई है…
- Advertisment -
Google search engine

Most Read