1

17 जुलाई को दुनिया मनाये तथाकथित न्याय दिवस, हम मनायेंगे अन्याय दिवस

17 जुलाई, विश्व में न्याय दिवस के रूप में मनाया जाता है पर क्या हमारे देश में सभी को समय पर उचित न्याय मिल रहा है ?. नहीं, यहाँ मिलती है तो सिर्फ तारीख पर तारीख. और अगर कोई पीड़ित अदालत में कुछ कहना चाहे या भरष्ट जजों के खिलाफ आवाज उठाना चाहे तो उसको कंटेम्प्ट ऑफ़ कोर्ट का डर दिखा कर अन्याय सहने को मजबूर किया जाता है.

इस सब की वजह है अदालती कार्यवाही की ऑडियो विडियो रिकॉर्डिंग का न होना. पीड़ित अदालत में जो कहता है, सुनता है, देखता है, अन्याय सहता है, उसका कहीं कोई ऑडियो विडियो सबूत का न होना.इस सब की वजह है जजों की जल्द और उचित न्याय करने की जिम्मेदारी का न होना और अदालत की कार्यवाही की ऑडियो विडियो रिकॉर्डिंग का न होना और ये वजह ही भरष्ट जज को तानाशाह बना देती है. हमारे देश में जल्द और उचित न्याय नहीं मिलता अगर मिलता तो दिल्ली का धरना स्थल जंतर मंतर हमेशा आबाद न रहता. और न ही हर दिन देश में विभिन्न स्थानों पर न्याय की मांग में प्रदर्शन होते.

इसलिए हमारी संस्था विभिन्न संस्थाओ, डार्क साइड ऑफ़ इंडियन जुडिशरी, जज एड्वोकट पीड़ित एसोसिअशन, राष्ट्र परिवार भारत के साथ 17 जुलाई को जंतर मंतर पर सुबह 11 बजे से 3 बजे ” अन्याय दिवस ” के रूप में मनाएगी.


———————————————————————————————-
सबकी जिम्मेदारी । सबकी भागीदारी ।।
Judiciary ठीक होगी तभी हमारा देश ठीक
Judicial Reforms / न्यायपालिका में सुधार
सबको जल्द न्याय के लिए न्यायपालिका में सुधार एक ” ऐसा मोटा पत्थर या पहाड़ ” है जो अकेले हमारी या अकेले आपकी एक चोट से या किसी अकेले की कोशिशों से नहीं टूटने वाला इसके लिए हमें ” आजादी की लड़ाई ” की तरह बार बार कोशिश करनी होगी और तब तक करनी होगी जब तक कामयाबी न मिल जाये

01 – We Want Video Recording of Court Proceedings.
02 – We Want Time Bound Judiciary System.

Best wishes,

Gulshan Pahuja

For

Fight 4 Judicial Reforms ( New Delhi )

facebook: https://www.facebook.com/jdisjd3

website : http://justicedelayedisjusticedenied.org


Mo. No. 07042418108