आप यहाँ है :

पाकिस्तानी को महंगा पड़ा हिन्दू विरोधी नारे लिखना

न्यू यॉर्क।हिंदू विरोधी नारे के पोस्टर लगाने वाले पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक को इसकी कीमत फास्ट फूड रेस्तरां की फ्रेंचाइजी बेचकर चुकानी पड़ी है। प्रतिष्ठित डेयरी क्वीन ने हिंदुओं के विरोध को देखते हुए पाक मूल के नागरिक से फ्रेंचाइजी लेते हुए नए मालिक को बेच दी है। इस पर भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद तुलसी गबार्ड ने भी खुशी जताई है। अमेरिकन डेयरी क्वीन कारपोरेशन के अधिकारी डीन पीटर्स ने बताया कि केमाह और टेक्सास में डेयरी क्वीन की फ्रेंचाइजी नए मालिक को सौंप दी गई है। इसके साथ ही कैफे में लगे सभी हिंदू विरोधी पोस्टरों को भी हटा दिया गया है। पाक मूल के अमेरिकी नागरिक मोहम्मद डार पिछले छह महीनों से अपने कैफे में हिंदू विरोधी नारे वाले पोस्टर व साइनबोर्ड लगा रहे थे। इसका हिंदू समेत अमेरिकियों ने भी विरोध किया था, लेकिन डार इन पोस्टरों को हटाने के लिए तैयार नहीं हुए।

अपने इस रवैये की वजह से आखिर में उन्हें फ्रेंचाइजी छोड़नी पड़ी। इसको लेकर भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद तुलसी गबार्ड ने सभी अमेरिकी हिंदू संस्थाओं को बधाई देते हुए कहा कि आपके प्रयासों ने रंग लाया। डेयरी क्वीन कंपनी की तरफ से जारी एक बयान में बताया गया कि हिंदू विरोधी नारों को हटाने के लिए ही फ्रेंचाइजी को बेचा गया है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top