ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

फिल्मी दुनिया का 2013 का लेखा जोखा

फिल्मी दुनिया के लिए 2013 को जहां मिला-जुला साल बताया, वहीं चेन्नई एक्सप्रेस ने बॉक्स ऑफिस पर रिकार्ड 216 करोड़ रुपए की कमाई कर डाली। बॉलीवुड का इस साल अब तक का कुल कारोबार 2,633 करोड़ रुपए का हो चुका है, जिसमें धूम-3 की कमाई जुड़नी अभी बाकी है। यह फिल्म 20 दिसंबर को रिलीज होनी है। इस साल 166 फिल्में रिलीज हुईं और पिछले साल हुई कुल 2,423 करोड़ रुपए की कमाई से इस साल अधिक कमाई हुई।

ब्लॉकबस्टर फिल्मों की संख्या इस साल हालांकि पिछले साल के मुकाबले कम रही। पिछले साल नौ फिल्में 100 करोड़ के क्लब में शामिल हुई थीं, जिनमें शामिल थीं- अग्निपथ, हाउसफुल-2, राउडी राठौर, एक था टाइगर, बर्फी, जब तक है जान, सन ऑफ सरदार, बोल बच्चन और दबंग-2। इस साल अब तक सिर्फ पांच फिल्में हीं 100 करोड़ के आंकड़े को पार कर सकीं, जिनमें शामिल हैं- ये जवानी है दीवानी, चेन्नई एक्सप्रेस, भाग मिल्खा भाग, कृष-3 और राम-लीला। मल्टिमीडिया कंबाइन्स के राजेश थडानी ने बॉलीवुड के लिए 2013 को मिला-जुला बताया। उन्होंने कहा, 2013 अच्छा साल रहा, बल्कि यह कहना ठीक होगा कि मिला-जुला साल रहा। कुछ बड़ी फिल्में और साथ ही कुछ औसत फिल्मों ने अच्छा प्रदर्शन किया। फिल्म विश्लेषक कोमल नाहटा के मुताबिक, बॉलीवुड का कारोबार अब तक के हिसाब से बेहतर रहा है।

कृष-3 और चेन्नई एक्सप्रेस जैसी कुछ बड़े बजट की फिल्मों ने अत्यधिक अच्छा प्रदर्शन किया। विभिन्न�Ÿोणियों में विविध प्रकार की फिल्मों के साथ यह मिला-जुला साल रहा। इस साल लगभग हर�Ÿोणी की फिल्में बनीं। थडानी ने कहा कि भले ही 100 करोड़ क्लब में इस साल कम फिल्में शामिल हुईं, लेकिन इस साल का कलेक्शन बेहतर रहा। उन्होंने कहा, चेन्नई एक्सप्रेस की 216 करोड़ रुपए की कमाई हुई। ये जवानी है दीवानी की 185 करोड़ रुपए की कमाई हुई। कृष-3 की लगभग 200 करोड़ रुपए, भाग मिल्खा भाग की 109 करोड़ और राम-लीला की 110 करोड़ रुपए की कमाई हुई। थडानी का कहना है, 2012 में 175 करोड़ रुपए और 200 करोड़ रुपए तक की कमाई नहीं हुई थी। जी-7 मल्टिप्लेक्स और मराठा मंदिर के कार्यकारी निदेशक मनोज देसाई ने कहा कि राम-लीला आश्चर्यजनक तरीके से 100 करोड़ रुपए के क्लब में प्रवेश कर गई। राम-लीला के 100 करोड़ रुपए के क्लब में शामिल होने की उम्मीद नहीं थी, लेकिन इसने बढ़िया प्रदर्शन किया।

विश्लेषकों के मुताबिक, कई छोटे बजट की फिल्मों के लिए भी यह साल बेहतर रहा। बिग सिनेमा के मुख्य संचालन अधिकारी आशीष सक्सेना ने कहा, साल अच्छा रहा, लेकिन 2012 के मुकाबले 15-20 फीसदी कम रहा। मेरे ख्याल से यह मिला-जुला साल रहा। जहां तक छोटे बजट की फिल्मों की बात है, आशिकी-2, एबीसीडी- ऐनी बडी कैन डांस, स्पेशल 26 और ग्रैंड मस्ती ने काफी अच्छा कारोबार किया। थडानी ने भी कहा कि छोटे बजट में चार फिल्मों का प्रदर्शन बेहद उम्दा रहा। जानकार सूत्रों के मुताबिक आशिकी-2 ने 79 करोड़ रुपए, एबीसीडी ने 36 करोड़ रुपए, काई पो चे ने 49 करोड़ रुपए, फुकरे ने 32 करोड़ रुपए, स्पेशल 26 ने 67 करोड़ रुपए, चश्मेबद्दूर ने 42 करोड़ रुपए, मद्रास कैफे ने 40 करोड़ रुपए और गो गोवा गॉन ने 25 करोड़ रुपए कमाए.

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top