आप यहाँ है :

देश के 92 ऐतिहासिक स्थल गायब हो गए

संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने सदन में एक लिखित जबाव में बताया कि देश के 92 ऐतिहासिक महत्व के इमारत ‘गायब’ हो गए थे। यह जवाब उन्‍होंने सीएजी की साल 2013 में जारी एक रिपोर्ट के हवाले से बताया दिया।

उन्‍होंने कहा कि पुराने दस्तावेज, राजस्व मानचित्र और पुरातत्व विभाग में संबंधित स्मारकों के फील्ड अधिकारियों द्वारा तैयार की गई पुरानी रिपोर्ट की मदद से 42 स्मारकों को फिर से खोज लिया गया है। 14 स्मारक शहरीकरण की चपेट में पाए गए, जबकि 14 स्मारक बांधों या झीलों में डूब चुके हैं।

शर्मा ने बताया कि देश के 24 ऐतिहासिक महत्व के स्मारक अभी भी ‘गायब’ हैं, जिनमें से 11 उत्तर प्रदेश के हैं। इस जानकारी के सामने आने के एक दिन बाद भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग (ASI) ने इसरो के साथ मिलकर इन इमारतों को फिर से खोजने का बीड़ा उठाया है।

आगरा क्षेत्र के सुपरिटेंडेंट पुरातत्वेत्ता भुवन विक्रम ने बताया कि इस सिलसिले में ASI ने इसरो के साथ समझौता किया है, जिसके तहत इसरो अब इन इमारतों को उपग्रह की मदद से खोजने में मदद करेगा। समझौता इसरो के नेशनल रिमोट सेंसिंग सेंटर के साथ किया गया है। विक्रम ने बताया कि केंद्र द्वारा रखरखाव किए जाने वाले सभी सुरक्षित, प्रतिबंधित और विनयमित इलाकों-स्मारकों का मानचित्र उपग्रह की मदद से बनाया जाएगा।
हिन्दी मीडिया Hindi Media
3:32 PM (1 hour ago)

to me

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top