Friday, June 21, 2024
spot_img
Homeखबरेंश्रीश्याम फाल्गुनी निशान शोभा यात्रा में लोगों की उत्साहपूर्वक भागीदारी

श्रीश्याम फाल्गुनी निशान शोभा यात्रा में लोगों की उत्साहपूर्वक भागीदारी

भुवनेश्वर। स्थानीय मिलन मैदान लक्ष्मीसागर से भुवनेश्वर,झारपाडा श्रीश्याममंदिर तक श्रीश्याम फाल्गुनी निशान शोभा यात्राः2023 निकाली गई जिसमें लगभग एक हजार भक्तों ने हिस्सा लिया। सभी बाबा भक्त भाई पीली कमीज और सफेद पाजामा में थे वहीं सभी मां भक्त हल्की पीली साडी में थीं। सभी के हाथों में निशान था और होंठों पर बाबा खाटूनरेश का गगनभेदी जयकारा था। उस दौरान स्थानीय पुलिस एएसआई जयंती स्वाईं के कुशल देखरेख में सुरक्षा के व्यवस्थित इंतजाम देखने को मिले।

लक्ष्मीसागर मिलन मैदान से बैण्ड-बाजे के साथ यह निशान शोभायात्रा श्रीश्याममंदिर झारपाडा पधारीं जहां बाबा खाटूनरेश के फूलों से सजे दिव्य दरबार में सभी ने अपने-अपने निशान के साथ बाबा के दर्शन किए और अपने-अपने निशान बाबा के मंदिर के गुंबज पर लगा दिए। कार्यक्रम के संयोजक युवा समाजसेवी साकेत अग्रवाल और उसकी युवा टीम ने आयोजित फाल्गुनी महोत्सव निशान शोभायात्रा को पूरी तरह से सफल मनाने में पूर्ण सहयोग दिया। फाल्गुनी निशान शोभा यात्रा की पूर्ण कामयाबी पर सेवाट्रस्ट के अध्यक्ष पवन गुप्ता, सचिव सुरेश कुमार अग्रवाल तथा सभी ट्रस्टियों ने सफलता पर खुशी जताई। बच्चे भी निशान शोभायात्रा में बढ-चढकर हिस्सा लिए।

अंत में सभी भक्तगण मंदिर की ओर से आयोजित स्वरुचि अल्पाहार लिया जिसमें आनंद पुरोहित,राधेश्याम तथा चिरंजी आदि का सहयोग सराहनीय रहा। श्रीश्याम मंदिर के मुख्य पुजारी पण्डित नन्दू जी तथा उनके समस्त सहयोगियों का योगदान सभी बाबा भक्तों के अच्छे –से दर्शन कराने में अच्छा सहयोग रहा।गौरतलब है कि मंदिर में आयोजित हो रहे तीन दिवसीय श्रीश्याम फाल्गुनी महोत्सवः2023 के तीन मार्च की शाम में भजनसंध्या के अवसर पर ओडिशा के महामहिम राज्यपाल प्रो.गणेशीलाल जी समारोह के मुख्य अतिथि होंगे जो सायंकाल बाबा के दिव्य दरबार में पधारकर सबसे पहले माथा टेकेंगे तथा अपने आशीर्वचनों से सभी को अनुगृहीत करेंगे।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार