Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeदुनिया भर कीचालीस वर्षो से रेलवे में पर्याप्त निवेश नहीं हुआ : सुरेश प्रभु

चालीस वर्षो से रेलवे में पर्याप्त निवेश नहीं हुआ : सुरेश प्रभु

बैंगलुरु ।भारत और चीन की रेल प्रणाली के बीच तुलना करते हुए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज कहा कि पिछले 40 साल में देश में रेलवे में पर्याप्त निवेश नहीं किया गया. प्रभु ने कहा, रेलवे भारतीय अर्थव्यवस्था की आधार है और इसीलिए हमने रेलवे के पुनरद्धार के लिये बडे कार्यक्रम शुरू करने का निर्णय किया है. 

पिछले 30- 40 साल में हमने रेलवे में पर्याप्त निवेश नहीं किया. हाल में प्रकाशित अध्ययन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 1990 में चीन का रेलवे नेटवर्क भारत के मुकाबले छोटा था या बराबर था. पिछले 25 साल में इस मामले में चीन उल्लेखनीय रूप से भारत से आगे निकल गया.
 
प्रभु ने कहा कि एक आर्थिक शक्ति के रुप में चीन का विकास मजबूत रेल नेटवर्क के कारण संभव हो पाया है और रेल नेटवर्क में विस्तार क्षेत्र में निवेश से हुआ. रेलवे को वाणिज्यिक रुप से व्यवहारिक बनाये जाने के लिये उठाये जाने वाले कदमों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, मुझे पूरा भरोसा है कि हम केवल रेलवे के उपयुक्त कामकाज के जरिये देश के जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) में दो से तीन प्रतिशत का इजाफा कर सकते हैं. स्टेशन की नई इमारत के उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में प्रभु ने कहा, हम जब तक रेलवे में निवेश नहीं करते हैं, इसका कामकाज उपयुक्त नहीं हो सकता है.

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार