आप यहाँ है :

सुरेश प्रभु बोले, भारत दुनिया का सबसे बड़ा सौर उर्जा का केंद्र बनेगा

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने बंगलुरु में विश्व शिखर सम्मेलन के विश्व बिजली फोरम-2016 का उद्घाटन करते हुए कहा कि भारत दुनिया का सबसे ज्यादा सोलर पॉवर बनाने वाला देश बनेगा। उन्होंने कहा कि भारत सोलर पॉवर के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाला है।

आज के समय में उत्पादन बन रहा है जरूरतः सुरेश प्रभु

इस मौके पर रेल मंत्री ने कहा कि आज के समय में वितरित उत्पादन एक जरूरत बनता जा रहा है और उम्मीद है कि बहुत जल्द ही यह एक वास्तविकता बन जाएगा। भारत में पॉवर क्षेत्र में असीम संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि भारत में बिजली की मांग को पूरा करने की जरूरत है। भारत में मुख्य रूप से पॅावर की संभावनाएं प्रौद्योगिकी पर निर्भर हैं। सुरेश प्रभु ने कहा कि इससे हम गांवों तक आसानी से पहुंच सकते हैं। हमें प्रौद्योगिकी को बढ़ाना होगा। हमें गांवों में मुश्किलों को दूर करने के लिए सालों से उपयोगिताओं को प्रयोग करने में परिवर्तन करना होगा।

नवीकरणीय ऊर्जा पर जलवायु परिवर्तन का फोकस

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि आज के समय में जलवायु परिवर्तन भी एक महत्वपूर्ण घटक है। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन भी नवीकरणीय ऊर्जा पर फोकस कर रहा है। इसी के साथ ही हम लोग भी एक स्वच्छ विश्व की कल्पना कर सकते हैं। सुरेश प्रभु ने कहा कि दुनिया को सोलर पॉवर का ज्ञान पीएम मोदी ने ही दिया है। उन्होंने कहा कि किसी ने नहीं सोचा है कि भारत 2022 तक एक लाख मेगावॉट का लक्ष्‍य प्राप्त कर लेगा।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top