ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

कोटा शहरवासियों को जल्द मिलेगी डिजिटल मल्टीलेवल पार्किग की बडी सौगात

कोटा। कोटा में नगर विकास न्यास की ओर से स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर के व्यस्तम बाजार गुमानपुरा ओर जयपुर गोल्डन में पर बनाई जा रही मल्टीलेवल पार्किग का कार्य जल्द पूरा होने वाला हैं। अत्याधुनिक सुविधाओं युक्त दोनों पार्किंग स्थलांे का निर्माण कार्य पूरा हो चुका हैं। फिलहाल मल्टीलेवल पार्किंग का फिनिशिंग वर्क चल रहा हैं। इसके साथ ही सुरक्षा ओर संसाधनो के लिहाज से दोनों ही पार्किंग स्थलों को डिजिटल सिस्टम से जोडने की कार्ययोजना बनाई जा रही हैं।

नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने बताया कि इन सुविधाओं के विकास से व्यस्त बाजारों में आवागमन सुगम होगा और वाहनों के सुरक्षा से निश्चिंत होकर लोग खरीददारी कर सकेंगे। बाज़ार में एक अच्छा वातावरण बनेगा, बाज़ार खुले लगेंगे और भीड़ भाड़ से मुक्त होंगे। पार्किंग स्थलों की सुविधा शीघ्र नागरिकों को मिलना शुरू हो जाएगी।

उल्लेखनीय है कि यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के निर्देशन में विकास के सभी प्रोजेक्टस गतिशील हैं। सभी प्रोजेक्टस की रिपोर्ट पर मंत्री शांति धारीवाल लगातार फीडबैक लेते रहते हैं ओर जब भी कोटा पहुचते हैं तो मौके पर पहुचकर मॉनिटरिंग के साथ प्रोजेक्ट से जुडे अभियंताओं को विशेष दिशा निर्देश भी देते हैं। सभी प्रोजेक्टस कोटावासियो ओर बाहर से आने वाले लोगों को न सिर्फ सुगम आवागमन बल्कि बुनियादी सुविधाओं के साथ पयर्टकों के लिए भी आकर्षण के केन्द्र ये मल्टीलेवल पार्किंग स्थल होंगे।

नगर विकास न्यास सचिव राजेश जोशी ने बताया हैं कि मल्टीलेवल पार्किंग का कार्य जल्द कंपलीट हो जाएगा। इससे क्षेत्र के दुकानदारांे के साथ-साथ बाजार में खरीददारी करने आने वाले लोग भी अपने वाहनों की सुरक्षित पार्किंग अत्याधुनिक सुविधाओं को लाभ लेकर कर सकेगे।

नगर विकास न्यास के अधिशाषी अभियंता महेश शर्मा ने बताया कि गुमानपुरा पार्किंग स्थल मल्टीलेवल इस पार्किग स्थल में जी प्लस 3 एरिया में निर्माण करवाया गया हैं। जिसमें कुल 228 कारों के साथ 428 दुपाहियां वाहनों की पार्किग की जा सकंेगी। पार्किंग स्थल पर डिजिटल सिस्टम विकसित किए जाने की कार्ययोजना पर कार्य अंतिम चरण में हैं। जो किसी मेट्रों स्टेशन सरीखे की होगी। जिसके तहत सुरक्षित ओर आधुनिक सुविधाओं से युक्त पार्किंग स्थल पर सीसीटीवी कैमरों के साथ डिजिटल माध्यम से एन्ट्री, एक्जिट ओर वाहनों को पार्क करने के लिए स्थान की जानकारी मिल सकेगी। पार्किग स्थल पर फायर फायंिटंग सिस्टम विकसित किया गया है, ताकि किसी वाहन में आग की दुघर्टना होने पर तुरंत ही अत्याधुनिक तकनीक की मदद से काबू किया जा सके। पार्किग स्थल पर लिफ्ट, सिढियो की सुविधा , हर फ्लोर पर टायलेट की सुविधा भी विकसित की गई हैं। पार्किग पर हर फ्लोर जेब्रा क्रॉसिंग बनाया गया है ताकि वाहन पार्किग में असुविधा न हो। प्रवेश ओर एक्जिट गेट के साथ दो आपालकालीन गेट भी बनाए गए हैं। पार्किग के आगे के हिस्से में हरित पटिटयां भी बनाई जा गई हैं। पार्किग स्थल के चारांे ओर सडक का निर्माण भी करवाया गया हैं। 15 करोड 97 लाख रूपए की लागत से हुआ निर्माण, डिजिटल सिस्टम सहित करीब 21 करोड रूपए का यह प्रोजेक्ट है।

रामपुरा बाजार सहित क्षेत्र के व्यापारियों ओर शहरवासियों को पार्किंग के लिए इस पार्किंग स्थल को भी अत्यानुधिक सुविधाओं से साथ नगर विकास न्यास तैयार करवा रहा हैं। इस पार्किंग स्थल का कार्य भी अब अंतिम चरण में हैं। जयपुर गोल्डन पार्किंग स्थल पर 173 कार ओर 132 दुपाहियां वाहनों की पार्किंग की सुविधा विकसित की गई हैं। जी प्लस-3 के साथ एक लोवर फ्लोर भी इस पार्किंग स्थल पर विकसित किया गया हैं। इसकी लागत करीब 15 करोड़ हैं जिसमे निर्माण के साथ डिजिटल सिस्टम शामिल है।

कोटा के व्यस्तम बाजार गुमानपुरा में न्यास द्वारा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत बनाई गई। पार्किंग के बाद क्षेत्र के व्यापारियोें ने भी नगर विकास न्यास का आभार जताया हैं। कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन और महासचिव अशोक माहेश्वरी ने नगर विकास न्यास की इस पहल की सराहना की और कहा कि लंबे वक्त से जो मांग की जा रही थी उसको यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने पूरा कर व्यापारियों को बड़ी राहत दी है व्यापारियों का कहना है कि पार्किंग स्थल के निर्माण से व्यापारियों को तो राहत मिलेगी ही साथ ही बाजार में आने वाले उपभोक्ताओं को भी सुगम ओर सुरक्षित पार्किग की सुविधा मिलेगी। बाजार में खरीददारी के लिए आने वाले लोगो को बड़ी राहत देगी । साथ ही जाम की परेशानी से भी निजात मिलेगी। गुमानपुरा व्यापार संघ के अध्यक्ष संजय शर्मा ने नगर विकास न्यास की पहल की सरहाना करते हुए कहा हैं कि व्यापारी की सालों पुरानी मांग को नगर विकास न्यास ने पूरा कर व्यापारियांे के साथ आमजन को भी बडी राहत पहुचाई हैं। पार्किंग स्थल का व्यापारियांे को भी बडा लाभ मिलेगा।

image_pdfimage_print


Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

twenty − eighteen =

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

Back to Top