Tuesday, March 5, 2024
spot_img
Homeकवितामजदूर दिवस पर नमन हर उस कर्मवीर को जिसने इस दुनिया को...

मजदूर दिवस पर नमन हर उस कर्मवीर को जिसने इस दुनिया को इतना सुन्दर बनाया

उस किसान को
जिसने अपने श्रमसीकरों से सींची फसलों को
हवा के साथ अठखेलियां करना सिखाया

उस मजदूर को
जिसने अपना घर ना होते हुए भी लाखो लोगो के लिए घर बनाया

उन सब कर्मवीरों के भगीरथ प्रयासों को
जिन्होंने अंतरिक्ष से सागर की गहराइयों तक..
हर दुर्गम को सुगम बनाया..

हर उस इंसान को
जिसने अपने परिवार और समाज के लिए
अपने जीवन को आहुति बनाया

उन सफाई कर्मियों को
जिन्होंने इस धरती का सारा कचरा हटाकर
इसे रहने योग्य बनाया

हर घर और ऑफिस में काम करते
सभी सहायकों को
जो हर आवाज पर दौड़ते है
बिना थके

सृष्टि की रचना भले ही ईश्वर ने की
लेकिन धन्यवाद दुनिया के हर कर्मशील को
ईश्वर की इस सृष्टि में सुन्दर रंग भरने के लिए

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

  1. http://hindimedia.in/में आप कृत रचना पढ़ी। रचना मे ” > हर घर और ऑफिस में काम करते
    > सभी सहायकों को जो हर आवाज पर दौड़ते है
    >
    > बिना थके” पंक्ति लगा मेरे लिए लिखी गई है ………..!

Comments are closed.

- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार