Friday, May 24, 2024
spot_img
Homeकॉर्पोरेटगैविस को खरीदेगी ल्यूपिन

गैविस को खरीदेगी ल्यूपिन

फार्मा दिग्गज ल्यूपिन लिमिटेड अमेरिका में न्यू जर्सी की जेनेरिक दवा उत्पादक कंपनी गैविस का अधिग्रहण करने जा रही है। कंपनी ने आज ऐलान किया कि उसने गैविस फार्मास्युटिकल्स एलएलसी एवं नॉवेल लैबोरेटरीज इंक (गैविस) 88 करोड़ डॉलर (करीब 5,610 करोड़ रुपये) में खरीदने के लिए करार किया है। इस सौदे के लिए कुछ शर्तें पूरी करनी होंगी। ल्यूपिन का पिछले 18 महीनों में यह पांचवां विदेशी अधिग्रहण होगा और किसी भी भारतीय कंपनी द्वारा अमेरिका में यह अब तक का सबसे बड़ा अधिग्रहण होगा। ल्यूपिन अमेरिका में अपनी पैठ बढ़ाने के लिए यह सौदा कर रही है। पिछले साल उसकी कुल आय में अमेरिका का 45 फीसदी योगदान रहा था। अमेरिका में ल्यूपिन छठी सबसे बड़ी दवा कंपनी है।

इस सौदे की घोषणा ऐसे समय में की गई है जब ल्यूपिन को अमेरिकी बाजार में कम बिक्री की मार झेलनी पड़ रही है। कंपनी ने अपने अप्रैल-जून तिमाही के लिए अपने कारोबारी नतीजों का ऐलान आज किया। इसके मुताबिक कंपनी का शुद्घ मुनाफा 16.7 फीसदी घटकर 524.7 करोड़ रुपये रहा। इसका असर कंपनी के शेयर पर भी पड़ा और बंबई स्टॉक एक्सचेंज पर शेयर 5 फीसदी गिरावट के साथ 1,728.60 रुपये पर बंद हुआ। बाजार पर नजर रखने वालों की राय है कि यह अधिग्रहण ऊंची कीमत पर किया जा रहा है। वित्त वर्ष 2014 में गैविस की बिक्री 9.6 करोड़ डॉलर रही थी यानी ल्यूपिन उसकी सालाना कमाई से 9.2 गुना रकम देकर अधिग्रहण कर रही है। ऐंजल ब्रोकिंग की उपाध्यक्ष (शोध-फार्मा) सरबजीत कौर नांगरा ने कहा, 'कंपनी के आकार को देखते हुए पहली नजर में यह सौदा महंगा लग रहा है। हालांकि ल्यूपिन को इसके लिए रकम जुटाने में मुश्किल नहीं होगी क्योंकि उस पर बहुत कम कर्ज है।' दुनिया का सबसे बड़ा दवा बाजार अमेरिका ल्यूपिन के कारोबार की वृद्घि से खासा अहम है। वित्त वर्ष 2015 में अमेरिका से उसकी आय 12 फीसदी बढ़कर 89.1 करोड़ डॉलर रही, जबकि अमेरिकी जेनरिक बाजार की वृद्घि दर महज 4.5 फीसदी रही थी। लेकिन चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में अमेरिका से ल्यूपिन का कारोबार करीब 26 फीसदी घटा है।

ल्यूपिन की मुख्य कार्याधिकारी विनीता गुप्ता ने कहा, 'यह अधिग्रहण ल्यूपिन के लिए खासा अहम है, क्योंकि यह अमेरिका में अपनी मौजूदगी बढ़ाने के हमारे लक्ष्य के माकूल है। इससे ल्यूपिन को त्वचा रोग की दवाओं, नियंत्रित पदार्थ उत्पादन और अन्य महत्त्वपूर्ण जेनेरिक दवाओं के क्षेत्र में कंपनी को विस्तार करने में मदद मिलेगी। गैविस को उच्च विविधता वाले उत्पाद कम से कम समय में देने का अच्छा अनुभव है और आगे भी इसके तेजी से बढऩे की उम्मीद है।' गैविस के पास 250 विशेषज्ञ कर्मचारी हैं, जो दवा उत्पादों के फॉमूर्लेशन, विकास और विनिर्माण तथा बिक्री में माहिर हैं। 

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार