ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

106 वर्षीय भुलई भाई का आशीर्वाद लेने मोदीजी ने अचानक फोन किया

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बुधवार सुबह 8:30 बजे कुशीनगर के नेबुआ नौरंगिया से पूर्व विधायक रहे नारायन जी उर्फ भुलई भाई को फोन कर उनका आशीर्वाद लिया। कॉल, भुलई भाई के बेटे अनूप चौधरी के मोबाइल पर आई जिसे भुलई भाई के नाती कन्‍हैया चौधरी ने रिसीव किया।

प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारी ने उनसे पूछा, ‘नारायण जी से बात हो सकती है…।’ कन्‍हैया ने कहा, ‘बिल्‍कुल हो सकती है।’ यह कहते हुए उन्‍होंने भुलई भाई को मोबाइल दे दिया। कन्‍हैया ने जब बताया कि फोन पर दूसरी तरह प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी हैं तो भुलई भाई की खुशी का ठिकाना न रहा।

भुलई भाई के फोन पर आते ही दूसरी तरफ से प्रधानमंत्री ने उन्‍हें प्रणाम किया। उन्‍होंने उनका हालचाल लिया और कहा कि बहुत सालों से उनसे बात-मुलाकात नहीं हो पाई। आज मन कर दिया कि बात करुं और संकट काल में आशीर्वाद लूं। आपने तो शताब्‍दी देखी है। 106 वर्ष में तो आपने पांच पीढि़यां देखी होंगी।

इधर से भुलई भाई ने अपना हाल बढि़या बताते हुए प्रधानमंत्री की तारीफ की। उन्‍होंने कहा कि आपकी कृपा से सब ठीक चल रहा है। उन्‍होंने प्रधानमंत्री को धन्‍यवाद देते हुए कहा कि ईश्‍वर आपको यशस्‍वी बनाए और जब तक स्‍वस्‍थ रहें देश का नेतृत्‍व करें। प्रधानमंत्री ने कहा कि बस आपका आशीर्वाद है, अच्‍छा करूं, आप लोगों से जो सीखा है वो देश के काम आए। प्रधानमंत्री ने भुलई भाई की तबीयत का हाल जाना और कहा कि परिवार में भी सभी को उनका प्रणाम कह दें। बहुत साल हो गए उन्‍हें देखा नहीं है लेकिन सबको प्रणाम कह दें।

नारायण उर्फ भुलई भाई जनसंघ के जमाने से भाजपा से जुड़े रहे। वह 1974 से 1977 और 1977 से 1980 तक कुशीनगर की नेबुआ नौरंगिया सीट से जनसंघ के विधायक रहे। इमरजेंसी में वह कई महीनों तक जेल में भी रहे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top