आप यहाँ है :

पर्वतीय पर्यटन पुस्तक का विमोचनः पर्यटन और खादी में रोजगार की अपार संभावनाएं– पंकज मेहता

कोटा। राजस्थान खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री पंकज मेहता ने ” पर्वतीय पर्यटन ; विशेष सन्दर्भ अरावली पर्वत” पुस्तक का विमोचन किया। यह पुस्तक सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के पूर्व संयुक्त निदेशक डॉ. प्रभात कुमार सिंघल एवं पूर्व प्राचार्य राजकीय कन्या महाविद्यालय बूंदी प्रो.प्रमोद कुमार सिंघल ने संयुक्त रूप से लिखी हैं।

इस अवसर पर पंकज मेहता ने कहा कि पर्यटन और खादी क्षेत्रों में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं और इनका विकास बेरोजगारों को नवजीवन से सकता है। उन्होंने कहा महात्मा गांधी जहां खादी के विकास पर बल देते थे वहीं संस्कृति संरक्षण के भी हामी थे। उन्होंने कहा हाड़ौती में पर्यटन विकास की संभावनाओं का दोहन किया जाना चाहिए। उन्होंने लेखकों को उनके श्रमसाध्य कार्य के लिए बधाई दी।

लेखक डॉ.सिंघल ने पुस्तक की भूमिका की जानकारी देते हुए बताया कि विश्व एवं भारत के पर्वतों की संरचना, निर्माण प्रक्रिया, विशेषताएं, महत्व के साथ – साथ पर्यटन में योगदान को रेखंकित किया गया हैं। प्रो.प्रमोद ने कहा कि पुस्तक भूगोल और इतिहास के विद्यार्थियों के अलावा सामान्य ज्ञान की दृष्टि से उपयोगी है और पर्यटन के लिए गाइड का काम करेगी।

राजकीय सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय के अधीक्षक डॉ.दीपक श्रीवास्तव ने भी विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन एडवोकेट अख्तर खान ने किया। सूचना केंद्र के पूर्व पुस्तकालय प्रभारी हेमन्त पाराशर ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संयोजन पत्रकार के. डी.अब्बासी ने किया। प्रारम्भ में मुख्य अतिथि का माल्यार्पण कर स्वागत किया।

कार्यक्रम में रमेश गौतमअनिल आनन्द, जगदीश शर्मा, रईस खान साजिद जावेद, शहनवाज़ खान, दुष्यंत सिंह, लाल चंद भूरी, विजय भारद्वाज, सन्दीप अगण्य, संजय शर्मा विजय शर्मा, शमशाद, साहिल खान शुभम, पूर्व पार्षद लाढ वर्मा, नवनीत जेन, वासु नागर, राजन तिवारी,, हरपाल राणा आदि भी मौजूद रहे।

पुस्तक विमोचन अवसर पर लेखकों को मुंबई,दिल्ली,पंचकूला, गुरुग्राम, बेंगलुरू, हैदराबाद, गोवा, देहरादून, मुजफ़्फरनगर, कोटद्वार, लखनऊ, कानपुर, मेरठ, जयपुर, उदयपुर, जोधपुर,बीकानेर, भरतपुर, धौलपुर, बूंदी,झालावाड़, अजमेर, हनुमानगढ़ सहित कोटा आदि जगहों से पत्रकारों,लेखकों,साहित्यकारों, अधिकारियों एवं शुभचिंतकों ने लेखकों को बधाई प्रेषित की है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top